राष्ट्रीय शिक्षा नीति : विद्यार्थियों के स्किल डेवलपमेंट तथा प्लसेमेंट की लिए हुआ एमओयू

- Advertisement -

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
शासकीय कला एवं विज्ञान महाविद्यालय, रतलाम के स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा विद्यार्थियों के स्किल डेवलपमेंट तथा प्लसेमेंट की लिए एक एमओयू किया गया। यह एमओयू प्रथम ट्रेनिंग एंड कॉन्सलिंग सर्विसेस तथा टेलिकॉम सेक्टर स्किल कॉन्सलिंग (टीएसएससी) के साथ करियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा किया गया।
इस एमओयू पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. संजय वाते, प्रथम संस्था की प्रोजेक्ट हेड कविता गेहानी तथा टी.एस.एस.सी. के सीनीयर जी.एम. प्रवीण सिरोही द्वारा हस्ताक्षर कर एमओयू का आदान-प्रदान किया गया।
प्रथम एम.एस.एम.ई. के तहत पंजीकृत संगठन है। यह समाज के विशेष रूप से ग्रामीण जरूरतमंद और कमजोर वर्ग के लिये कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान करता है। टी. एस. एस. सी. एक गैर लाभकारी संगठन है। इसे टेलिकॉम सर्विसेस के क्षेत्र में नेशनल स्किल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन एवं अन्य द्वारा संयुक्त रूप से दूरसंचार के क्षेत्र में विकास एवं उत्पदकता को बढावा देने के लिये स्थापित किया गया है।
मप्र शासन की राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अंतर्गत चलाए जाने वाले वोकेशनल कार्यक्रम जो कि वद्यार्थियों द्वारा चयनित होगे, उन्हे प्रशिक्षण द्वारा लागू करने में टी.एस.एस.सी. एवं प्रथम सहायक होंगे। इस हेतु टी.एस.एस.सी. तथा प्रथम द्वारा महाविद्यालय में एक स्किल डेवलपमेंट केन्द्र बनाया जाएगा। इसमें प्रथम द्वारा एन.एस.डी.सी. द्वारा प्रमाणित प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाए जाएंगे। प्रशिक्षण से संबंधित क्षेत्र के विद्यार्थियों हेतु इन्टर्नशिप एवं प्लमेसमेंट में ये संस्थान सहयोगी होंगे। सम्पुर्ण प्रशिक्षण कार्यक्रम महाविद्यालय के विद्यार्थियों पर केन्द्रीत होगा तथा प्रशिक्षित विद्यार्थियों को टी.सी.एस.सी. द्वारा प्रमाणित प्रमाण पत्र प्रदान किये जाएगें।
एमओयू के दौरान स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन योजना के जिला समन्वयक डॉ. एसएस मौर्य, प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ. स्वाति पाठक, ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट अधिकारी प्रो. दिनेश बौरासी, सदस्य प्रो. विजय कुमार सोनिया, प्रो. रविकांत मालवीय, प्रो. रियाज मंसूरी, गिरीश पांचाल, अतुल कौशिक विशेष रूप से उपस्थित थे। 

- Advertisement -

Related articles

कलेक्टर ने सपत्नीक देखी हस्तशिल्प प्रदर्शनी : शिल्पिकारों की कलाओं को सराहा, कहां हस्तनिर्मित इन वस्तुओं में कलाकार की भावना काफी महत्वपूर्ण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प हथकरघा विकास निगम का प्रयास सदैव सराहनीय रहा है। सरकार ने भी...

50 से ज्यादा हस्तशिल्पिकारों की कलाकारी एक ही स्थान पर : कंपनी को मात देते दूधी के जूते, बहुत कुछ है इस हस्तशिल्प मेले...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम के रोटरी हॉल अजंता टॉकीज रोड पर चल रहे हस्तशिल्प मेले में 50 से ज्यादा हस्तशिल्पों के...

हस्तशिल्प मेले में एक से बढ़कर एक कारीगरी : भोपाल से आए कलाकार की अनूठी कला, कलात्मक हस्तशिल्प सामग्री बनी आकर्षण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मृगनयनी, संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, मध्यप्रदेश शासन द्वारा रोटरी हॉल अजंता...

वर्चस्व की लड़ाई में सजा : बहुप्रतिक्षित फैसले में भदौरिया ग्रुप के आरोपियों को 7 वर्ष तो अंबर ग्रुप के आरोपियों को 6 वर्ष...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।एक दशक पूर्व रतलाम के जूनियर इंस्टीट्यूट के सामने शिखा बार में दो पक्षों के बीच...
error: Content is protected by VandeMatram News