34.5 C
Ratlām
Friday, March 1, 2024

दर्दनाक हादसा : तालाब में नहाने गई तीन बहने पानी में डूबी, शव लेने ना एम्बुलेंस आई और अस्पताल में स्ट्रेचर भी नहीं मिला

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम जिले के सागोद में तालाब (तलैया) में दादी के साथ नहाने गई तीन बहनो की पानी मे डूबने से मौत हो गई। तीनो बच्चियों की शवों के साथ एक बड़ा ही दुःखद वाकया हुआ। घटनास्थल से हॉस्पिटल तक तीनों बहनों के शव लाने के लिए एम्बुलेंस तक नही पहुची। पुलिस वाहन में तीनों शव जिला चिकित्सालय लाए गए तो वाहन से उतारकर शवों को ले जाने के लिए स्ट्रेचर तक नही मिला। पत्रकारों ने शव उतारा और पुलिस कर्मी अपनी गोद मे लेकर शव हॉस्पिटल के अंदर गए।

यह घटना जिला मुख्यालय से मात्र 4 किलोमीटर दूर ग्राम सागोद के पास की है। यहां बने एक तालाब पर नहाने तीन बहने कुमकुम, पीहू और अर्चना अपनी दादी के साथ गई थी। नहाते समय पैर फिसलने से पहले एक बच्ची पानी मे डूबने लगी तो बाकी दो बहने उसे बचाने गई, तो वह भी पानी मे डूब गई। डूबते हुए बच्चियों ने शोर मचाया तो आसपास के लोगो ने आकर देखा कुछ लोग तालाब में उतरे और बच्चियों को बाहर निकाला। तीनो अचेत अवस्था मे थी। तीनों की उम्र 12 से 15 साल के बीच की है।

सूचना मिलने पर दीनदयाल नगर थाना प्रभारी दिलीप राजोरिया मौके पर पहुचे। तत्काल एम्बुलेंस को सूचित किया। मौके पर दो बच्चियों ने दम तोड़ दिया था जबकि एक बच्ची की सांस चल रही थी। लेकिन काफी देर तक एम्बुलेंस नही पहुची तो थाना प्रभारी दिलीप राजोरिया ने अपने वाहन से बच्ची को जिला चिकित्सालय पहुंचाया। मृत दोनो बच्चियों के शव भी एम्बुलेंस के न पहुचने से पुलिस वाहन में ही जिला अस्पताल लाए गए। हालत यह थी कि वाहन से शव उतारने के लिए अस्पताल का कोई कर्मचारी नहीं था और ना ही स्ट्रेचर मिला। कवरेज के लिए पहुचे पत्रकारों ने शव वाहन से उतारा तो पुलिसकर्मी गोद मे लेकर हॉस्पिटल के अंदर पहुचे। घटना की सूचना मिलने पर महापौर पप्रहलाद पटेल भी हॉस्पिटल पहुचे। अव्यवस्थाओं को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से मोबाइल पर चर्चा कर अव्यवस्थाओं को दूर करने को कहा।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network