अनुमति नहीं देने पर जनजाति संगठन का प्रशासन पर गंभीर आरोप, 23 को होगी महापंचायत

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
जनजाति समाज ने जिला प्रशासन पर भेदभाव का गंभीर आरोप लगाते हुए 23 अक्टूबर को ग्राम रामपुरिया में महापंचायत का निर्णय लिया है। कार्यक्रम की अनुमति नहीं देने पर जनजाति समाज के विभिन्न संगठनों की ओर से नाराजगी जाहिर करते हुए जिला प्रशासन को एक पत्र सौंपा हैं, जिसमें संविधान अंतर्गत शांतिपूर्वक आयोजन नहीं करने पर जिला प्रशासन के अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए भेदभाव का आरोप लगाया है। जयस संगठन के प्रदेश संयोजक डॉ. अभय ओहरी ने बताया 23 अक्टूबर को होने वाले कार्यक्रम की नियमानुसार अनुमति के लिए प्रस्तुत आवेदन को निरस्त करके भेदभावपूर्ण नीति अपनाई जो की सही नहीं है। मौलिक अधिकारों के विपरीत अनुमति निरस्त करना और सत्ताधारी पार्टी के (कोविड-19 के नियमों के विपरित) निरन्तर आयोजन करवाना भेदभावपूर्ण दर्शाता है। जयस के प्रदेश संयोजक डॉ. ओहरी ने समाज के विभिन्न संगठनों की ओर से 23 अक्टूबर को ग्राम रामपुरिया में महापंचायत का आयोजन करने की घोषणा की है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.