26.9 C
Ratlām
Saturday, June 22, 2024

एसआई सहित 7 आरोपियों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का प्रकरण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
मंदसौर जिले के सीतामऊ थाने में पदस्थ एसआई जोरसिंह डामोर सहित उसके पुत्र, पत्नी और चार बेटियों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना के अलावा जान से मारने की धमकी देने के आरोप में प्रकरण दर्ज हुआ। रतलाम में शुभमश्री कॉलोनी निवासी एसआई डामोर और उसके परिजन पर पीड़िता बहू का गंभीर आरोप है कि दहेज में कार नहीं मिलने पर उसके गर्भवती होने पर उपचार नहीं कराने के अलावा दूसरी युवती से शादी की धमकी देकर शारीरिक व मानसिक प्रताड़ना दी जाती थी।
बदनावर पुलिस थाने के अनुसार पीड़िता भावना ने परिजन के साथ थाने पहुंच रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका 22 फरवरी 2016 को रतलाम निवासी राहुल पिता जोरसिंह डामोर से विवाह हुआ था। विवाह के दौरान सामाजिक रस्मों के चलते सोने-चांदी के आभूषण के अलावा गृहस्थी का पूरा सामान भी दिया गया था। शादी के कुछ दिनों बाद से दहेज में कार नहीं लाने की बात पर ससुर जोरसिंह पिता तेलाजी डामोर, पति राहुल डामोर, ननद प्रिया पति गजेंद्रसिंह देवड़ा और मोनिका पति भंवरसिंह भूरिया उसे प्रताड़ित करने लगे। जब वह गर्भवती हुई तो प्रताड़ना पहले से ज्यादा बढ़ गई और उसका उपचार तक नहीं कराया। बेटे के जन्म के बाद भी प्रताड़ना का दौर नहीं थमा, इसके बाद भी पीड़िता के साथ आरोपी ससुर, पति के अलावा सास सहित ननद उसे दूसरी शादी की धमकी देकर यातनाएं देने लगे। जून-2021 में मायके पहुंचकर पीड़िता ने परिजन को पिछले पांच वर्षों से मिल रही यातनाओं की जानकारी दी। परिवार के लोगों ने ससुराल पक्ष से चर्चा कर मामले को सुलझाने की कोशिश की, लेकिन दहेज लोभी ससुराल पक्ष के लोगों के सामने उनकी एक नहीं चली। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने एसआई जोरसिंह डामोर के अलावा उसके पुत्र राहुल, पत्नी संगीता, पुत्री मोनिका, कविता, प्रिया तथा प्रियंका के खिलाफ भादंवि की धारा 498-ए, 294, 323, 506 एवं 34 में प्रकरण दर्ज किया।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network