मिलीभगत ऐसी भी : चौपाटी से लेकर होटलों तक में धड़ल्ले से हो रहा घरेलू गैस का व्यावसायिक उपयोग, आपूर्ति विभाग कार्रवाई से कर रहा परहेज

मिलीभगत ऐसी भी : चौपाटी से लेकर होटलों तक में धड़ल्ले से हो रहा घरेलू गैस का व्यावसायिक उपयोग, आपूर्ति विभाग कार्रवाई से कर रहा परहेज

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
सरकार द्वारा उपभोक्ताओं के हित में बनाए गए नियमों को दरकिनार कर रतलाम शहर व जिले में घरेलू गैस का व्यवसायिक उपयोग सरेआम किया जा रहा है। शहर की दो बत्ती चौपाटी से लेकर होटलो, रेस्टोरेंट व ढ़ाबों आदि में आसानी से घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग होता देखा जा सकता है, लेकिन जिला आपूर्ति विभाग मामले में कार्रवाई से परहेज किए हुए है।
शहर के किसी भी बड़े-छोटे होटल, ढ़ाबों एवं रेस्त्रां के साथ ही सबसे व्यस्त दो बत्ती चौपाटी सहित अन्य स्थानों पर ठेले व गुमटियों में संचालित हो रही खाद्य दुकानों में इस तरह का अवैध तमाशा देखा जा सकता है। घरेलू सिलेंडरों का व्यवसायिक उपयोग किए जाने संबंधित जानकारी आम उपभोक्ताओं द्वारा अधिकारियों को दी जाती है लेकिन इसका कोई असर नहीं होता है। आपको बता दे कि व्यावसायिक गैस सिलिंडर का कीमत 2500/- से 3,000/- रुपये के बीच है। लेकिन घर में प्रयोग किए जाने वाले घरेलू गैस सिलेंडर कालाबाजारी में आसानी से 1200/- रुपये तक में मिल जाता है। होटल मालिक व दो बत्ती चौपाटी जैसे गुमटी संचालक पैसे बचाने के लिए व्यावसायिक सिलेंडर के बदले घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग कर नियम को तोड़ रहे हैं। इन दुकानदारों पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी की नजर पड़ती तो है, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। सूत्रों की माने तो होटलों व अन्य खाद्य दुकानों से जिम्मेदार अधिकारियों को बंदी के रूप में काली कमाई हर महीने जाती है। जिसके चलते विभाग के अधिकारी आंख भींच कर बैठे रहते हैं।

होटलों की जांच से परहेज करते हैं अधिकारी :
कुछ माह पूर्व तत्कालीन कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम घरेलू गैस के व्यवसायिक उपयोग को लेकर जिला आपूर्ति अधिकारी एसएच चौधरी पर जमकर नाराज हुए थे। इसके बाद कार्रवाई के निर्देश भी दिए। जिला आपूर्ति अधिकारी चौधरी ने खानापूर्ति करते हुए निर्देश को हवा कर दिया। होटलों में सफाई की बात हो या फिर खाद्य सामग्री की जांच यह कहीं भी देखने को नहीं मिलता है। इस वजह से होटल संचालकों द्वारा धड़ल्ले से घरेलू गैस सिलेंडरों का उपयोग किया जाता है।
मामले में जब रतलाम जिला आपूर्ति अधिकारी एसएच चौधरी से जानकारी मांगी गई तो उनके संज्ञान में पिछले तीन-चार माह में केवल तीन प्रकरण ही घरेलू गैस सिलेंडर के व्यवसायिक उपयोग करने पर कार्रवाई की बात कही गई। वन्देमातरम् न्यूज का सवाल यह है की रतलाम में हर दूसरी दुकान में घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग किया जा रहा है वहां जिला आपूर्ति अधिकारी को महज तीन स्थानों पर ही घरेलू गैस सिलेंडर ही दिखाई दिए ?

फ़ोटो : दो बत्ती चौपाटी पर खुलेआम घरेलू गैस का उपयोग करते दुकानदार

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.