निमंत्रण डेवलपर्स के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत, अनुबंध के बाद टीएंडसीपी के नक्शे में निकली कम जमीन

निमंत्रण डेवलपर्स के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत, अनुबंध के बाद टीएंडसीपी के नक्शे में निकली कम जमीन

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
निमंत्रण डेवलपर्स के खिलाफ श्री रिद्धि-सिद्धि रेसीडेंसी कॉलोनी में एक कमर्शियल भूखंड विक्रय करने के नाम पर धोखाधड़ी करने का मामला प्रकाश में आया। निलेश पिता अशोक पोरवाल निवासी दीनदयालनगर ने एसपी गौरव तिवारी को लिखित शिकायत के माध्यम से निमंत्रण डेवलपर्स के संदीप पिता शांतिलाल पिपाड़ा निवासी बजाज खाना के खिलाफ दो वर्ष पूर्व श्री रिद्धि-सिद्धि रेसीडेंसी में कमर्शियल भूखंड 4 हजार 43 वर्गफीट के अनुबंध पर संपूर्ण राशि लेने के बाद टीएंडसीपी के नक्शे में 3 हजार 497 फीट जमीन आने पर तकादा करने पर डराने-धमकाने का गंभीर आरोप लगाया।
शिकायतकर्ता निलेश पोरवाल ने बताया कि श्री रिद्धि-सिद्धि रेसीडेंसी की सर्वे नंबर 150 /17/1/1 की रकबा 0. 500 एवं सर्वे क्रमांक 150/17/1/2 की रकबा 0.500 हैक्टेयर भूमि और अन्य भूमि के लिए निमंत्रण डेवलपर्स के विक्रेता संदीप पिपाड़ा से अगस्त-2019 को अनुबंध कर राशि भरपाई की गई थी। पूरी राशि चेक एवं नगदी प्रदान कर नपती कर निमंत्रण डेवलपर्स ने 4 हजार 43 फीट कब्जा प्रदान किया था। इसके बाद पीडि़त निलेश पोरवाल ने निमंत्रण डेवलपर्स से उक्त भूमि की रजिस्ट्री कराने का आग्रह किया तो विक्रेता संदीप पिपाड़ा ने व्यस्तता का हवाला देकर अतिरिक्त समय मांगा। इसी दरमियान शिकायतकर्ता पोरवाल ने उक्त कमर्शियल भूखंड पर बैंक लोन लेने के लिए सर्च रिपोर्ट तैयार कराई तो उन्हें पता चला की टीएंडसीपी के नक्शे में कमर्शियल भूखंड महज 325 वर्गफीट यानी 3 हजार 497 फीट ही है। शिकायतकर्ता पोरवाल ने निमंत्रण डेवलपर्स को मामले से अवगत कराया तो उन्होंने कहा कि टीएंडसीपी की ओर से नक्शे में गलत साइज दर्शा रखी है, हम इसे सही करवाकर अनुबंध के मुताबिक रजिस्ट्री करवाएंगे। विक्रेता निमंत्रण डेवलपर्स की ओर से कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन के अलावा अन्य पारिवारिक कार्यों का बहाना बनाकर टालमटोल कर समय निकालते रहे। शिकायतकर्ता पोरवाल का आरोप है कि संपूर्ण राशि लेने के बाद भी अनुबंधकर्ता संदीप पिपाड़ा ने रजिस्ट्री नहीं कराई। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर समाप्त होने के बाद शिकायतकर्ता पोरवाल ने निमंत्रण डेवलपर्स के संदीप पिपाड़ा से रजिस्ट्री के लिए कहा तो उनके साथ अभद्रता कर बड़ा नेटवर्क होने की धौंस देते हुए हाथ-पैर तोड़कर कहीं पर भी फिंकवाने की धमकी दी। शिकायतकर्ता पोरवाल ने एसपी तिवारी को सौंपी शिकायत के बाद मामले में अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं होने पर सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत दर्ज कराई है। मुद्दे पर निमंत्रण डेवलपर्स के संदीप पिपाड़ा ने वंदेमातरम् न्यूज को बताया कि शिकायत के आधार पर उनके द्वारा संबंधित विभाग में बयान दर्ज करवा दिया है।
क्या कहते हैं जिम्मेदार
प्रॉपर्टी को लेकर प्राप्त शिकायत की जांच औद्योगिक क्षेत्र पुलिस कर रही है। मेरे द्वारा भी दोनों पक्षों को बुलाया गया है। विवेचना में संपूर्ण दस्तावेज जांचने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।- हेमंत चौहान, सीएसपी-रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.