वृद्धजनों को भी सम्मान से जीने का अधिकार है, अन्तर्राष्ट्रिय वृद्धजन दिवस पर हुआ सम्मान

वृद्धजनों को भी सम्मान से जीने का अधिकार है, अन्तर्राष्ट्रिय वृद्धजन दिवस पर हुआ सम्मान

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
अन्तर्राष्ट्रिय वृद्धजन दिवस के उपलक्ष्य में रेड क्रॉस वृद्धाश्रम बिरियाखेड़ी में वृद्धजनों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रुप से पूर्व रेड क्रॉस चेयरमेन महेन्द्र गादिया, पुलिस पंचायत से डीएसपी भूपेन्द्र सिंह राठौर, समाजसेविका शबाना, जिला विधिक अधिकारी पूनम तिवारी, समाजिक न्याय विभाग से आनन्द कातरकर, दिलीप सिंह सिसोदिया, किरण चन्हदे रेड क्रॉस कार्यालय से अमित व्यास, कैलाश मुरारी विशेष रुप से उपस्थित रहे।
उद्घाटन भाषण सम्बोधित करते हुए महेन्द्र गादिया द्वारा वृद्धजनों को अपना परिवार बताते हुए कहा कि वृद्धजनों को भी पुरे सम्मान से जीने का अधिकार है तथा उनकी स्वस्थ एवं अन्य आवश्यकताओं का पुरा ध्यान रखा जाना जरुरी है। उन्होंने बताया कि उनके एवं उनके परिवार द्वारा समय समय पर वृद्धाश्रम आकर वृद्धजनों की तकलीफो का निवारण कारने की कोशिश की जाती है।
डीएसपी राठौर ने कहा कि प्रत्येक मनुष्य के अंदर 3 गुण – रज गुण, तमो गुण एवं सद्गुण रहतें हैं इसलिये हमारी कोशिश यही रहनी चाहिये की हम सद्गुणों का विकास कर कार्य करना चाहिये ताकी हम वृद्धजनों की सेवा कर सकें। वर्तमान में पारिवारिक मूल्यों में गिरावट आई है इसमें सुधार आवश्यक है। वृद्धजनों की सेहत एवं स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उनके भोजन इत्यादी का ध्यान रखा जाना चाहिये।
समाजसेवीका सुश्री शबाना ने कहा कि वृद्धजनों को केवल एक दिन नहीं हर दिन सम्मान होना चाहिए, क्योंकि दवाओं से ज्यादा दुआओं में असर होता है।
उपस्थित महानुभावों द्वारा निवासरत वृद्धजनों का हार एवं शाल श्री फल से स्वागत किया गया। इसके पश्चात उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य शिविर में स्वास्थ्य विभाग से डॉ. अभिषेक अरोड़ा, डॉ. जितेन्द्र डावर, डॉ. सौरभ गुप्ता, डॉ. प्रियंका धनोतीया, डॉ.दिनेश बंसल, मुकेश शर्मा का सराहनीय सहयोग रहा। इनके द्वारा समस्त निवासरत वृद्धजनों की जांच कर आवश्यक दवाइयां प्रदान की गई। संचालन एससी जोशी संचालक वृद्धाश्रम द्वारा किया गया।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.