संवेदनहीन ऐसे भी : बॉयोडीजल डिपो में हादसे को 5 दिन बीते, ढोढर चौकी को शिकायत का इंतजार, प्रबंधन ने नहीं जाना झुलसे कर्मचारियों का हाल

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
ढोढर-कलालिया फंटा के बीच स्थित हिंदुस्तान बॉयोडीजल इंड्रस्टीज प्राइवेट लिमिटेड के ऑइल डिपो में हादसे के पांच दिन बाद भी पुलिस को मामले में शिकायत का इंतजार है। आग की घटना में 3 कर्मचारी झुलसे थे, जिनमें 2 की हालत गंभीर होने पर इंदौर रैफर किया है। बड़ा हादसा होने के बाद भी जिला और पुलिस प्रशासन की ओर से अब तक जांच शुरू नहीं करना और अनियमित्ता बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करना कई सवालों को उपजाने लगा है।

बता दें कि 15 सितंबर की शाम करीब 4.30 बजे ढोढर-कलालिया फंटा के बीच स्थित बॉयो डीजल डिपो के ऑइल टैंक में कर्मचारी काम कर रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक समीप में सुरक्षा बगैर वेल्डिंग का काम चल रहा था। अचानक वेल्डिंग की चिंगारी से टैंक ने आग पकड़ ली। इससे मोहन पिता गोपी (45) निवासी ढोढर, संजय पिता राधेश्याम (25) निवासी सरसौदा एवं विजय पाल (40) निवासी रिछाचांदा झुलस गए थे। बॉयो डीजल डिपो में फायर सेफ्टी का बंदोबस्त नहीं होने से आग तेजी से फैली और कर्मचारियों को चपेट में लेकर गंभीर रूप से झुलसा दिया। हादसे के बाद हिंदुस्तान बॉयोडीजल इंड्रस्टीज प्राइवेट लिमिटेड के ऑइल डिपो सुरक्षा बंदोबस्त बगैर कैसे संचालित किया जा रहा था, इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने अब तक कोई कदम नहीं उठाया। झुलसे कर्मचारियों की नाराजगी है कि अब तक डिपो चेयरमैन रतन जांगिड़ और प्रबंधन की ओर से कोई भी दोनों उपचारत कर्मचारियों की तबीयत पूछने नहीं आया।

जांचकर्ता एएसआई कुमावत को शिकायत का इंतजार
बॉयोडीजल डिपो में भीषण आग की औपचारिक जाँच में जुटे ढोढर चौकी में पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक जगदीशचंद्र कुमावत ने वन्देमातरम् न्यूज को बताया कि हादसे में हमारे पास कोई शिकायतकर्ता नहीं आया। जब उनसे सवाल किया कि हादसे में 3 कर्मचारी झुलसे हैं। इनमें 2 गंभीर इंदौर रैफर हुए ? चौकतें हुए जवाब दिया मुझे इसकी जानकारी नहीं। सवाल– जावरा सरकारी अस्पताल में बॉयोडीजल डिपो में झुलसे कर्मचारियों का उपचार हुआ और उन्हें वहां से रतलाम जिला अस्पताल रैफर किया?
जवाब – मुझे इसकी भी कोई जानकारी नहीं है।
सवाल – हादसे के 5 दिन बाद भी न तो पुलिस ने झुलसे कर्मचारियों का बयान लिए न ही डिपो चेयरमैन रतन जांगिड़ के खिलाफ कार्रवाई नहीं की?
जवाब – जावरा में चेहल्लुम में ड्यूटी की व्यस्तता से जाँच नहीं कर पाया जल्द कार्रवाई करूँगा।

  • बॉयोडीजल डिपो में आग से हुए हादसे की सूचना मिली थी। चूँकि में अभी छुट्टी पर होने से बाहर हूँ। मामले की जांच सहायक उपनिरीक्षक जगदीशचंद्र कुमावत कर रहे हैं। – राकेश मेहरा, चौकी प्रभारी-ढोढर (थाना रिंगनोद)

Author

Related articles

दो माह बाद भी पिता मौत के कारणों से अंजान : मजिस्ट्रियल जांच पूरी, परिजन काट रहे अफसरों के चक्कर

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।दो माह पूर्व छात्रावास की दो छात्राओं की मौत की भले ही मजिस्ट्रियल जांच पूरी हो...

यह अंदर की बात है! “नट्टू काका” की जादूगरी से सुर्खियों में नगर सरकार, ऐसी भी वर्दी कुछ नहीं तो 50-50 रुपए से चला...

असीम राज पांडेय, केके शर्मा, जयदीप गुर्जररतलाम। नई नवेली नगर सरकार में इन दिनों "नट्टू काका" खासे सुर्खियों...

खूनी संघर्ष में युवक की हत्या: सोशल मीडिया पर कमेंट्स बना विवाद का कारण,  मृतक के शव का आज होगा पोस्टमार्टम

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।जिला मुख्यालय के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र शिवगढ़ में सोशल मीडिया पर कमेंट्स को लेकर दो पक्षों...

स्पेशल चैकिंग अभियान : बगैर टिकट रेल यात्रा अब पड़ेगी महंगी, पहले दिन रेलवे ने 197 यात्रियों से वसूले 70 हजार से अधिक

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम रेल मंडल के वाणिज्‍य विभाग की स्पेशल चैकिंग से बगैर टिकट यात्रा कर रहे यात्रियों...
error: Content is protected by VandeMatram News