दो साल में सांसद व विधायक निधी से खरीदे गए टैंकरों की होगी जांच, एक स्थान पर सभी को खड़ा करने के निर्देश, ग्राम पंचायतों में मची खलबली

दो साल में सांसद व विधायक निधी से खरीदे गए टैंकरों की होगी जांच, एक स्थान पर सभी को खड़ा करने के निर्देश, ग्राम पंचायतों में मची खलबली

केके शर्मा
रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम जिले की दो जनपदों की ग्राम पंचायतों में पिछले दो साल में सांसद व विधायक निधी से खरीदे गए पानी के टैंकरों की जांच होगी। जिले की बाजना व सैलाना जनपद की ग्राम पंचायतों में प्रदाय किए गए टैंकरों की जांच आज बुधवार को होने जा रही हैं।
ग्राम पंचायतों में जलप्रदाय को लेकर सांसद व विधायक निधी से लगातार टैंकर प्रदाय किए जाते हैं। टैंकरों को देने के बाद कि स्थिति के बारे में कोई ध्यान नही देता। जनपदों से भी ग्राम पंचायतों के प्रधान ( सरपंच) व सचिवों को निर्धारित स्थान पर टैंकर लाकर खड़े करने के निर्देश दिए गए हैं। इधर इस निर्देश के बाद ग्राम पंचायतों में भी खलबली मच गई हैं। टैंकरों की जांच के लिए कलेक्टर के निर्देश पर एक समिति भी बनाई गई है। जिसकी प्रमुख डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन हैं। वर्तमान स्थिति देखने खुद डिप्टी कलेक्टर बुधवार को मौके पर जाएगी। टैंकरों का भौतिक सत्यापन कर जांच क्यों कि जा रही हैं, इस बारे में कोई भी अधिकारी स्पष्ट रूप से बोलने के लिए तैयार नहीं है, केवल यह कहा जा रहा हैं कि प्रदेश स्तर से सभी जिलो में इसकी जानकारी ली जा रही हैं। जानकारों की माने तो टैंकरों के भौतिक सत्यापन का यह पहला मौका हैं।

इन वर्षों में प्रदाय टैंकरों की जांच
वर्ष 2019-202021-21 में कितने टैंकर प्रदाय हुए, वर्तमान में इनकी क्या स्थिति हैं, कहीं कबाड़ में तो नही बेच दिए आदि बिंदुओं को लेकर टैंकरों का भौतिक सत्यापन किया जाएगा। बाजना जनपद के बाजना, रावटी, कुंदनपुर व राजापुरा माताजी में आसपास की ग्राम पंचायतों के टैंकरों को लाकर खड़ा करने के निर्देश दिए गए हैं।
इनका कहना हैं
बाजना व सैलाना जनपद की ग्राम पंचायतों में प्रदाय टैंकरों की वर्तमान स्थिति को देख वरिष्ठ अधिकारियों को रिपोर्ट सौपी जाएगी। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
शिराली जैन, डिप्टी कलेक्टर रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.