पुलिस की सक्रियता: 95 मिनट में ही मिल गया महिला शिक्षक का गुम हुआ मोबाइल फोन

पुलिस की सक्रियता: 95 मिनट में ही मिल गया महिला शिक्षक का गुम हुआ मोबाइल फोन

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम पुलिस की सक्रियता का एक उदाहरण शुक्रवार को सामने आया। माणक चौक थाना पुलिस ने एक महिला शिक्षक का गुम हुआ मोबाइल फोन महज 95 मिनट में ढूंढ कर सौंप दिया। सड़क पर गिरा मोबाइल उठाने वाले की पहचान चौराहे पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से हो सकी। शिक्षक ने थाने के स्टाफ और विभाग के उच्चाधिकारियों को शुक्रिया अदा किया।
घटना शुक्रवार सुबह करीब 9.55 बजे जिले के रावटी के एक शासकीय स्कूल में पदस्थ महिला शिक्षक स्मिता पति नीरज शुक्ला के साथ हुई। उनका मोबाइल फोन रावटी जाते समय कार की पिछली सीट से उतरकर अगली पर बैठने के दौरान रतलाम के त्रिपोलिया गेट चौराहे पर कहीं गिर गया था। जब मोबाइल फोन गिरा तो उनका ध्यान नहीं गया लेकिन थोड़ी दूर जाते ही उन्होंने किसी को कॉल करना चाहा तो फोन नहीं मिला। वे पांच मिनट के भीतर ही त्रिपोलिया गेट में उसी जगह पहुंचीं जहां मोबाइल फोन गिरने की आशंका थी। चौराहे पर स्थित होटल वाले, ठेले वाले और दुकानदारों से पूछताछ की लेकिन बात नहीं बनी। किसी की मदद से उन्होंने पति नीरज शुक्ला को जानकारी दी।
सीसीटीवी से चला पता
शुक्ला दंपती बिना कोई समय गंवाए माणक चौक थाना पहुंचे और पुलिस को मोबाइल फोन गुम होने की सूचना दी। टीआई दिलीप राजोरिया ने तत्काल प्रधान आरक्षक आतिश धाणक व चीता फोर्स के कपिल लोहार सहित स्टाफ को मोबाइल ढूंढने की जिम्मेदारी दी। चीता कपिल लोहार शुक्ला दंपती के साथ घटनास्थल पहुंचे और आसपास पूछताछ की। इस बीच सीसीटीवी कैमरे से शहर पर नजर रखने वाली सीसीआर कंट्रोल रूम की टीम ने शिक्षक द्वारा बताए स्थान व समय अनुसार फुटेज चैक किया। इसमें महिला शिक्षक के कार से उतरते समय गिरा मोबाइल फोन उठाते एक व्यक्ति नजर आया। फुटेज के आधार पर चौराहे पर पूछताछ में पता चला एक ऑटो चालक ने मोबाइल गिरते देख लिया था और उठा लिया था लेकिन तब तक महिला शिक्षक और कार वहां से जा चुकी थी। चालक से मोबाइल फोन प्राप्त कर माणक चौक पुलिस ने श्रीमती शुक्ला के सुपुर्द कर दिया। महज 95 मिनट में ही गुम हुआ मोबाइल रिकवर होने पर श्रीमती शुक्ला ने टीआई दिलीप राजोरिया, चीता कपिल लोहार व साइबर सेल सहित उच्चाधिकारियों के प्रति आभार ज्ञापित किया।
नागरिक भी बरतें सावधानी
सीएसपी हेमंत चौहान ने बताया कि त्योहार का समय होने से बाजारों में भीड़-भाड़ ज्यादा है। नागरिकों से अपील है कि सावधानी रखें। यदि किसी के साथ भी ऐसी कोई घटना होती है तो तत्काल संबंधित थाना पुलिस की मदद लें। उन्होंने सभी से अपील की है यदि किसी का कोई सामान मिलता है तो उसे नजदीकी थाने या चौकी में जमा कराएं ताकि संबंधित को लौटाया जा सके।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.