आंतकियों पर सख्ती : सूफा का नेटवर्क तलाशना शुरू, एजेंसियों ने रतलाम में जांच के लिए डाला डेरा

आंतकियों पर सख्ती : सूफा का नेटवर्क तलाशना शुरू, एजेंसियों ने रतलाम में जांच के लिए डाला डेरा

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
जयपुर सीरियल बम ब्लास्ट को अंजाम देने से पहले राजस्थान पुलिस के हत्थे चढ़े आतंकियों के बाद विभिन्न जांच एजेंसियों ने रतलाम में डेरा डाल रखा है। गिरफ्तार आंतकियों द्वारा पूछताछ में खोले राज के बाद जिला पुलिस और खुफिया एजेंसियों की नाकामी से हरकत में आई उच्चस्तरीय एजेंसियों ने जमीनीस्तर पर पड़ताल शुरू कर दी। सोमवार को भी ऑफिसर्स कॉलोनी मुख्यमार्ग स्थित फिरोज नामक संदिग्ध के घर एजेंसी जांच के लिए पहुंची, जिससे आसपास के रहवासियों का मजमा एकत्र हो गया था।
मालूम हो कि 30 मार्च को अफीम की सूचना पर निंबाहेड़ा (राजस्थान) की सदर पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान रतलाम की कार क्रमांक एमपी-43 सीए-7091 से 12 किलो आरडीएक्स जब्त किया था। कार से रतलाम निवासी आतंकी अल्तमस पिता बशीर शेरानी, सैफुद्दीन उर्फ सैफुल्लाह पिता रमजानी दोनों निवासी शेरानीपुरा एवं जुबेर पिता फकीर मोहम्मद निवासी आनंद कॉलोनी की गिरफ्तार पश्चात पूछताछ में जयपुर सीरियल बम ब्लास्ट को अंजाम देने के लिए बड़ी मात्रा में विस्फोटक सहित अन्य संवेदनशील उपकरण जब्ती का मामला उजागर हुआ। रतलाम के तीन आंतकियों की निशानदेही पर राजस्थान पुलिस ने टोंक से आतंकी फरहान और मुजीब को गिरफ्तार किया था। इसके बाद राजस्थान एटीएस के इनपुट पर कट्टरपंथी सूफा संगठन का मास्टरमाइंड इमरान खान निवासी मोहननगर सहित आमीन फावड़ा और आमीन पिता अब्दुल को पकडक़र राजस्थान पुलिस के सुपुर्द किया था। मामले में राजस्थान एटीएस मास्टरमाइंड इमरान सहित सभी आतंकियों को रतलाम लेकर आ चुकी है और इमरान के पोल्ट्रीफॉर्म से तलाशी के दौरान बड़ी मात्रा में बम निर्माण की सामग्री जब्त कर अपने साथ ले जा चुकी है। हालांकि राजस्थान एटीएस ने इस मामले में अभी तक अधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं की है। वंदेमातरम् न्यूज के सूत्रों के मुताबिक कट्टरपंथी संगठन सूफा युवाओं को बरगला कर देशद्रोही गतिविधियों को संचालित कर रहा था, जिसके कारण आतंकियों ने रतलाम जैसे संवेदनशील शहर में बड़ी मात्रा में विस्फोटक एकत्र करने के साथ जयपुर को दहलाने की बैखोफ साजिश का षडयंत्र रचा।

देखे वीडियो


एजेंसी के बाद स्थानीय पुलिस पहुंची
ऑफिसर्स कॉलोनी मुख्य मार्ग स्थित फिरोज नामक संदिग्ध के घर एजेंसी जांच के बाद सीएसपी हेमन्त चौहान, स्टेशन रोड पुलिस थाना प्रभारी किशोर पाटनवाला दल बल के साथ पहुंचे, लेकिन उन्हें कोई जानकारी नहीं मिल पाई और खाली हाथ लौटना पड़ा।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.