25.9 C
Ratlām
Monday, July 22, 2024

धोखेबाज रखता था सट्टे का शोक : आईपीएल में फारूक हारा लाखों रुपए, रतलाम पुलिस आरोपी को ले जाएगी राजस्थान

धोखेबाज रखता था सट्टे का शोक : आईपीएल में फारूक हारा लाखों रुपए, रतलाम पुलिस आरोपी को ले जाएगी राजस्थान

– न्यायालय ने 11 जुलाई तक बढ़ाई धोखेबाज फारूक की रिमांड

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज। फाइनेंस कंपनी खोलकर रतलाम में लोगों से लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने वाला शातिर आरोपी क्रिकेट सट्टेबाजी का भी शोक रखता था। रिमांड के दौरान धोखेबाज आरोपी फारूक (52) पिता फकीर मोहम्मद निवासी निवासी अहमदाबाद (गुजरात) ने कबूला है कि धोखे से कमाई लाखों की राशि वह अजमेर में एक सटोरिए को दे चुका है। यह राशि आरोपी हाल ही में हुए आईपीएल मैच में हारा। रतलाम पुलिस ने अजमेर ( राजस्थान ) में क्रिकेट बुकी की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने गिरफ्तार धोखेबाज फारूक को न्यायालय में पेश किया। न्यायालय ने आरोपी फारूक की रिमांड अवधि 11 जुलाई तक बढ़ा दी है। अब रतलाम जिले की स्टेशन रोड पुलिस आरोपी को अपने साथ अजमेर (राजस्थान) लेकर जाएगी। 

पुलिस रिमांड में जानकारी सामने आई है कि रतलाम से पूर्व शातिर धोखेबाज फारूक ने राजस्थान के जोधपुर में सन फाइनेंस व सीकर में सूर्या फाइनेंस, उड़ीसा के भुवनेश्वर में ईजी फाइनेंस. गुजरात के सूरत में एक्सलुट शोपर्स, बिहार, झारखंड, अहमदाबाद आदि स्थानों पर अलग-अलग फाइनेंस कंपनी के नाम से आफिस खोले थे। नवंबर-2023 में आरोपी मोहम्मद फारूक ने रतलाम के स्टेशन रोड निवासी फरियादी गिरीश मेहता से संपर्क कर बताया था कि उसे फाइनेंस कंपनी खोलने के लिए ऑफिस व निवास करने के लिए एक भवन किराये से चाहिए। फरियादी ने एग्रीमेंट कर उसे भवन किराये पर दे दिया था। आरोपी फारूक ने लोकल एड्रेस पर मोबाइल फोन की नई सिम लेकर महाराष्ट्र बैंक में खाता भी खुलवाया था। इसके बाद उसने गेट ग्लोबल नाम से फाइनेंस कंपनी का आफिस खोलकर विज्ञापन देकर कर्मचारियों की भर्ती की थी। साजिश के तहत आरोपी फारूक ने हाउस, बिजनेस, पर्सनल, मार्टगेज, एग्रीकल्चर लोन आदि के पंपलेट छपवाकर आफिस खोला था। उसने कर्मचारियों को रतलाम के आसपास के क्षेत्रों में भेजकर लोगों से लोन देने के लिए प्रक्रिया फीस के नाम पर 40 दिन में करीब 15 लाख रुपए एकत्र किए थे।

शातिर धोखेबाज ऐसे हुआ था रफूचक्कर

फरियादी और मकान मालिक गिरीश मेहता से लोन वितरित करने के नाम पर शातिर आरोपी फारूक ने 27 लाख रुपए उधार लिए थे। आरोपी ने फरियादी से कहा था कुछ दिन में उक्त राशि वह वापस कर देगा। मकान मालिक मेहता से 27 लाख रुपए की धोखाधड़ी कर वह मुंबई आरबीआई ऑफिस जाने का बात कहकर रतलाम से भाग गया था। फरवरी-2024 में मकान मालिक मेहता ने उसके खिलाफ रतलाम रेलवे स्टेशन थाने पर रिपोर्ट की थी। तभी से पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी। शातिर फारूक को पुलिस ने 6 जुलाई-2024 को रतलाम से गिरफ्तार किया। आरोपी फारूक पुलिस के हत्थे तब चढ़ा जब वह यहां किसी काम से आया था। न्यायालय ने उसे 7 जुलाई-2024 तक पुलिस रिमांड पर रखने के आदेश दिए थे। इसके बाद राशि और अन्य साक्ष्य जब्ती के लिए पुलिस ने न्यायालय से रिमांड बढ़ाने की मांग की तब आरोपी फारूक को 11 जुलाई – 2024 तक रिमांड बढ़ाने का आदेश दिया। 

क्रिकेट सट्टे में हारना बता रहा राशि

आरोपी मोहम्मद फारूक ने बताया कि वह धोखाधड़ी से प्राप्त काफी रुपया आइपीएल क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान सट्टे में हार गया है। उसने करीब 20 लाख रुपए अजमेर में रह रहे क्रिकेट सट्टे के एक बुकी को देना बताया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। – दिनेश भोजक, टीआई – स्टेशन रोड थाना, रतलाम (मध्य प्रदेश)

Aseem Raj Pandey
Aseem Raj Pandeyhttp://www.vandematramnews.com
वर्ष-2000 से निरतंर पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय। विगत 22 वर्षों में चौथा संसार, साभार दर्शन, दैनिक भास्कर, नईदुनिया (जागरण) सहित अन्य समाचार-पत्रों और पत्रिकाओं में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए वर्तमान में समाचार पोर्टल वंदेमातरम् न्यूज के प्रधान संपादक की भूमिका का निर्वहन। वर्ष-2009 में मध्यप्रदेश सरकार से जिलास्तरीय अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार के अलावा रतलाम प्रेस क्लब के सक्रिय सदस्य। UID : 8570-8956-6417 Contact : +91-8109473937 E-mail : asim_kimi@yahoo.com
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network