लाइव एक्शन : सूफा आतंकियों के रतलाम स्थित संपत्तियों को तोडऩे की कार्रवाई शुरू, प्रशासन अलर्ट मोड पर

लाइव एक्शन : सूफा आतंकियों के रतलाम स्थित संपत्तियों को तोडऩे की कार्रवाई शुरू, प्रशासन अलर्ट मोड पर


रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
राजस्थान में गिरफ्तार सूफा आतंकियों और उनके करीबियों के खिलाफ प्रशासन एक्शन मोड पर आ गया है। देशद्रोही गतिविधियों से कमाई अवैध संपत्ति के खिलाफ जांच पश्चात शुक्रवार सुबह नेस्तानाबूद करने की कार्रवाई शुरू हो गई। सूफा का सहयोगी आरोपी इमरान पिता मोहम्मद शरीफ खान के मोहननगर स्थित मकान को तोडऩे के अलावा मुंशीपाड़ा स्थित पोल्ट्रीफॉर्म को संयुक्त टीम ने तोडऩा शुरू कर दिया। कार्रवाई के दौरान मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।
मालूम हो कि राजस्थान के चित्तोडग़ढ़ की निम्बाहाड़ा सदर थाना पुलिस ने अफीम तस्करी की सूचना पर नाकाबंदी के दौरान रतलाम की कार क्रमांक एमपी-43 सीए-7091 से 12 किलो आरडीएक्स सहित अन्य आपत्तिजनक उपकरण जब्त किए थे। गिरफ्तार तीनों आरोपी अल्तमस पिता बशीर खाना, सरफुद्दीन उर्फ सैफुल्ला पिता रमजानी दोनों निवासी शेरानीपुरा सहित जुबेत पिता फकीर मोहम्मद निवासी आनंद कॉलोनी से राजस्थान और मध्यप्रदेश की एटीएस द्वारा संयुक्त पूछताछ में कई राज उगले। अलर्ट मोड पर आई रतलाम पुलिस ने गुरुवार सुबह से तीनों गिरफ्तार आतंकियों के अलावा उनके सहयोगी जो कि सूफा संगठन से जुड़े हैं उनके घरों की तलाशी लेने के साथ अवैध रूप से कमाई संपत्ति का लेखा-जोखा तैयार किया था। सूफा से जुड़े 50 से अधिक संदिग्धों को हिरासत में लेने के बाद शुक्रवार सुबह से आरोपियों की संपत्तियों पर जेसीबी चलाना शुरू कर दी। पहली कार्रवाई मोहननगर निवासी इमरान पिता मोहम्मद शरीफ के मकान सहित मुंशीपाड़ा स्थित पोल्ट्रीफॉर्म पर हुई। प्रशासन सूत्रों के अनुसार शुक्रवार देर शाम तक आतंकियों के ठिकानों को नेस्तानाबूद करने की कार्रवाई जारी रहेगी।

एटीएस के अलर्ट के बावजूद नहीं पकड़ पाए नेटवर्क
होली पूर्व भोपाल में आतंकियों की गिरफ्तारी पश्चात पूरे प्रदेश में एटीएस ने अलर्ट जारी किया था। इसके बावजूद रतलाम पुलिस के अलावा खुफिया एजेंसी सूफा से जुड़े तीनों गिरफ्तार आतंकी अल्तमस, सरफुद्दीन, जुबेर सहित मास्टरमाइंड असजद, इमरान खान, सैफुल्ला, आमीन फावड़ा का नेटवर्क तलाशने में खुफिया एजेंसी फेल साबित हुई। बुधवार को राजस्थान पुलिस के हत्थे चढने के बाद शासनस्तर पर आलाकमान अलर्ट मोड पर आ गए हैं और उनके द्वारा जिलाधिकारियों से अपडेट लेने के साथ कार्रवाई के दिशा-निर्देश दिए जाने लगे हैं। आतंकियों की संपत्तियों को ढहाने के दौरान शुक्रवार को कार्रवाई के दौरान ग्रामीण एएसपी सुनील पाटीदार, एसडीएम राजेश शुक्ला, एसडीओपी संदीप निगवाल, सीएसपी हेमंत चौहान, नगर निगम उपयंत्री राजेश पाटीदार व मनीष तिवारी सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

कार्रवाई करता प्रशासनिक अमला

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.