मार्च 2024 तक नागदा सेक्शन तक 160 किमी घंटा की गति से दौड़ेगी ट्रेने

मार्च 2024 तक नागदा सेक्शन तक 160 किमी घंटा की गति से दौड़ेगी ट्रेने

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
मार्च 2024 तक रतलाम मंडल में 160 किमी प्रतिघंटा की गति से ट्रेनें चलने लगेगी। रेलवे ने यह कड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है।
यह बात बुधवार रतलाम दौरे पर आए पश्चिम रेलवे महाप्रबंधक आलोक कंसल ने मीडिया से चर्चा में दौरान कही। उन्होंने कहा कि हाइस्पीड प्रोजेक्ट में रेलवे ने दिल्ली से मुंबई व दिल्ली से हावड़ा सेक्शन को शामिल किया है। पश्चिम रेलवे में मुंबई से रतलाम मंडल के नागदा तक 160 किमी प्रतिघंटा की गति के लिए सिविल वर्क्स, इलेक्ट्रिकल जैसे कामों को अंजाम देने की तैयारी कर ली है।
“परख”से सेक्शन परखने में आसानी
महाप्रबंधक कंसल ने कहा कि रतलाम को परख नामक सेल्फ प्रोपल्लेड इंस्पेक्शन कार उपलब्ध कराया गया है। इससे डीआरएम व अन्य अधिकारी सेक्शनों में बेहतरी से निरीक्षण कर सकेंगे। वर्तमान में 130 किमी प्रतिघंटा से ट्रेनें चलाई जा रही है। पूर्व में निरीक्षण में दिक्कतें आती थी। परख नामक इंस्पेक्शन कार से अब सेक्शनों में पहुचंने में आसानी रहेगी।
कर्व की अड़चन दूर करेंगे
160 किमी प्रोजेक्ट पर कंसल ने बताया कि रतलाम मंडल में कर्व व चढ़ाई सेक्शन की परेशानी को दूर किया जाएगा। इससे की ट्रेनों की रफ्तार प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि कोविड में कर्मचारियों ने बेहतरीन काम किया है। जो कर्मचारी कोविड की वजह से मारे गए है। उनमें से 95 फीसदी कर्मचारियों को रेलवे में नौकरी दी जा चुकी है। कोविड की परेशानी को देखते हुए रेलवे अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट के इंतजाम किए जा रहे है।
सुबह से निरीक्षढ़ शुरू
महाप्रबंधक कंसल ने रतलाम पहुंचकर सेल्फ प्रोपल्लेड इंस्पेक्शन कार का शुभारंभ किया। वे रेलवे अस्पताल भी गए। डीजल शेड का जायजा लेंगे। उसके बाद इंस्पेक्शन कार से फतेहाबाद सेक्शन की ओर रवाना होंगे। साथ मे डीआरएम विनित गुप्ता सहित विभागों के अधिकारी साथ रहे।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.