35.7 C
Ratlām
Monday, April 22, 2024

महिला बाल विकास विभाग की 2 पर्यवेक्षक निलंबित, कार्य के प्रति उदासीनता एवं लापरवाही बरतने पर कार्रवाई

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
कार्य के प्रति उदासीनता एवं गंभीर लापरवाही पर कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम द्वारा महिला एवं बाल विकास विभाग की दो पर्यवेक्षक को निलंबित कर दिया है। कलेक्टर द्वारा कुपोषण प्रबंधन कार्यक्रम क्रियान्वयन के तहत सेक्टरवार समुदाय में चयनित अतिगंभीर कुपोषित बच्चों तथा मध्यम गंभीर कुपोषित बच्चों को सामान्य श्रेणी में लाए जाने के लिए पर्यवेक्षकों के कार्यों का अवलोकन किया गया। इसमें पाया कि आलोट परियोजना की पर्यवेक्षक माया वर्मा तथा पिपलोदा परियोजना के आंबा सेक्टर की पर्यवेक्षक सुनीता नरेश द्वारा एकीकृत पोषण प्रबंधन कार्यक्रम में सबसे खराब प्रदर्शन किया है।
उक्त दोनों पर्यवेक्षक द्वारा अति गंभीर कुपोषित बच्चों तथा मध्यम गंभीर कुपोषित बच्चों की श्रेणी परिवर्तन के लिए कोई प्रयास नहीं किए गए जबकि यह कार्यक्रम जिले में कुपोषण में कमी लाए जाने के लिए राज्य स्तर से संचालित है। संबंधित पर्यवेक्षकों द्वारा कुपोषित बच्चों की श्रेणी सुधार के लिए ना तो कोई विशेष प्रयास किए गए और ना ही कुपोषित बच्चों के घर-गृह भेंट की  जाकर सुधार हेतु ठोस कदम उठाए गए।
आंगनवाड़ी केंद्रों का भ्रमण नहीं किया
पर्यवेक्षकों द्वारा विभागीय निर्देशों के परिपालन में नियमित रूप से आंगनवाड़ी केंद्रों का भ्रमण नहीं किया गया और पूरक पोषण आहार का नियमित वितरण हितग्राहियों तक नहीं किया गया। इस संबंध में जिला कार्यक्रम अधिकारी रजनीश सिन्हा द्वारा संबंधित पर्यवेक्षकों को कार्य में सुधार के लिए सेक्टर समीक्षा में सचेत किया गया परंतु संबंधित के कार्यों में कोई सुधार परिलक्षित नहीं हुआ, ऐसी परिस्थिति में दोनों पर्यवेक्षकों को निलंबित कर दिया गया।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network