22 करोड़ रुपए खर्च, रेल यात्री सुविधा शून्य

22 करोड़ रुपए खर्च, रेल यात्री सुविधा शून्य

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रेलवे स्टेशन पर रेल यात्री सुविधा के लिए अफसरों ने स्टेशन रिडेवलपमेंट स्किम के तहत 3 से 4 साल में लगभग 22 करोड़ रुपए खर्च कर दिए। इसके बाद भी यात्रियों को इसका पुख्ता लाभ नही मिला है। यात्रियों को लंबी दूरी तक चलने से बचाने के लिए प्लेटफॉर्म नंबर 2 के नए प्रवेश द्वार की ओर अतिरिक्त टिकिट विंडो बनाई गई। निर्माण पूरा होने के बाद भी इसे यात्रियों के लिए शुरू नही किया गया।
यात्री राधेश्याम पांचाल का कहना है कि इंदौर के लिए प्लेटफॉर्म के मुख्य टिकिट विंडो से ही टिकिट लेकर ट्रेन के लिए दूर तक चलना पड़ रहा है। नए प्रवेश द्वार और वहां टिकिट विंडो के लिए किया गया निर्माण अनुपयोगी साबित होने लगा है।
कवर शेड का इस बारिश में भी लाभ नही
प्लेटफॉर्म नंबर 1 व 2 के आधे भाग में यात्रियों को इस बारिश में भी कवर शेड का लाभ नही मिल सका। रेल सूत्रों का कहना है कि ठेकेदार को पुराने बिल का भुगतान नही किया गया। वही इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख अधिकारियों के निजी हित पूरे नही हुए। इससे काम को गति नही दी गई है। फिलहाल यात्रियों को बारिश में भीगते हुए निकलने को मजबूर होना पड़ रहा है।
शौचालय की सुविधा तक नही
इधर, प्लेटफॉर्म नंबर 1 व 2 पर आम यात्रियों के लिए शौचालय की भी प्राथमिक सुविधा नही है। हालांकि ऐसी वेटिंग हॉल व यात्री प्रतीक्षालय बने है। लेकिन वह आम यात्रियों को पूछताछ की प्रकिया से गुजरना पड़ता रहा है।

रतलाम रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधा रेल प्रशासन की पहली प्राथमिकता है। प्लेटफॉर्म नंबर 1 व 2 पर भी विभागीय प्रक्रिया के तहत सुविधाओं के क्रमवार इंतजाम किए जा रहे है।
खेमराज मीणा, जनसंपर्क अधिकारी रेल मंडल रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.