दर्दनाक हादसा : 9 साल के बच्चे की तरणताल में डूबने से मौत, परिजनों ने लगाए गम्भीर आरोप

दर्दनाक हादसा : 9 साल के बच्चे की तरणताल में डूबने से मौत, परिजनों ने लगाए गम्भीर आरोप

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम के शास्त्री नगर स्थित कुशाभाउ ठाकरे तरणताल में 9 वर्षीय बालक की डूबकर मौत हो गई। घटना शनिवार शाम 5 बजे की है। काटजू नगर निवासी बालक मयंक बैरागी उम्र 9 वर्ष अपने पिता सुनीलदास बैरागी के साथ नगर निगम की देखरेख व स्वामित्व वाले कुशाभाउ ठाकरे तरणताल तैराकी के लिए गया था। इस दौरान वह डूब गया जिसके बाद उसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया और शव पीएम के लिए भिजवा दिया। मृतक बालक मयंक चौथी कक्षा का छात्र था तथा पिता सुनील काटजू नगर शिव मंदिर में पुजारी है।
अस्पताल में मौजूद पिता सुनील व परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि वह काउंटर से टिकट ले रहे थे उस दौरान बालक मयंक अंदर चला गया। वहां मौजूद लाइफ गार्ड से जब मयंक को ढूंढने को कहा तो उसने नजरअंदाज कर दिया। इसी दौरान एक बच्चा ओर वहां डूब रहा था जिसे उसने बचाया। तरणताल के कर्मचारी कान में इयरफोन लगा कर गाने सुन रहे थे। थाना प्रभारी किशोर पाटनवाला ने बताया कि मामले में मर्ग कायम कर लिया गया है। पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप मामले की जांच की जाएगी।

पूर्व में हो चुकी घटना, अंदर सीसीटीवी तक नहीं
तरणताल में 2014 में भी एक बालक की मौत डूबने से हो चुकी है। जिसके बाद तरणताल काफी विवादों में रह था। जिसके बाद यह दूसरी घटना है। हैरत की बात तो यह है की करोड़ो की लागत वाले तरणताल में सीसीटीवी तक लगाना जिम्मेदारों ने जरूरी नहीं समझा। जिससे इस प्रकार की अप्रिय घटना की स्थिति स्पष्ट की जा सके। मामले में ज़िम्मेदार निगम आयुक्त सोमनाथ झारिया से संपर्क की कोशिश की गई मगर उन्होंने मामले से बचने के लिए फोन रिसीव नहीं किया।

जानकारी देते परिजन

फोटो : विलाप करते पिता व म्रतक बालक मयंक

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.