29.6 C
Ratlām
Friday, March 1, 2024

अंधा कानून : जिस बुजुर्ग को थाने के सामने किया लहूलुहान उसी पर दर्ज हो गया केस, आक्रोशित पहुंचे विधायक व एसपी के पास

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
शुक्रवार को थाने के बाहर बुजुर्ग के साथ युवक द्वारा की गई मारपीट में नया मोड आ गया। शनिवार सुबह घायल बुजुर्ग के परिजन व आक्रोशित लोग एसपी ऑफिस पहुंचे। जहां उन्होंने जमकर नारेबाजी करते हुए एसपी के नाम ज्ञापन सौंपा। एसपी ऑफिस के बाद परिजन शहर विधायक चेतन्य काश्यप के पास पहुंचकर उन्हें भी मामले से अवगत करवाया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने राजनीतिक दबाव में आकर एफआईआर अज्ञात नाम से की और धाराएं भी नहीं लगाई। राजनीतिक दबाव में आकर डॉक्टर ने घायल बुजुर्ग को बगैर पूरा इलाज किये ही फिट बताकर डिस्चार्ज दे दिया। जबकि बुजुर्ग ठीक हालात में भी नहीं है।

इसके अलावा पुलिस ने पीड़ित बुजुर्ग के खिलाफ ही आरोपी युवक की और से क्रॉस रिपोर्ट कर दी। परिजनों ने भाजपा जिलाध्यक्ष राजेंद्रसिंह लूनेरा पर पुलिस पर दबाव बनाने का आरोप लगाया। परिजनों का कहना था कि कल से आरोपी युवक की और से समझौते के दबाव भी बनाये जा रहे है। वहीं इन आरोपों पर भाजपा जिलाध्यक्ष लूनेरा से संपर्क करने की कोशिश की गई मगर उन्होंने फोन नहीं उठाया। परिजनों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर ज्ञापन एएसपी सुनील पाटीदार को सौंपा। जिसके बाद परिजन शहर विधायक चेतन्य काश्यप से मिले। विधायक काश्यप ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल थाना प्रभारी किशोर पाटनवाला को फोन पर मामले में निष्पक्ष कार्रवाई के निर्देश दिए।

देखे वीडियो

यह था मामला :
घायल 65 वर्षीय बुजुर्ग अनिल पिता कुशलचंद जैन निवासी नागरवास शुक्रवार सुबह 10.30 बजे वह स्टेशन रोड पर कारू मामा कचोरी वाले के यहां से गुजर रहे थे। तभी सामने एक पिले रंग की पल्सर बाइक लहराते हुई बुजुर्ग के सामने आ गई। बुजुर्ग अनिल ने जब आरोपी युवक उदयभान को ठीक ढंग से गाड़ी चलाने की नसीहत दी तो यह युवक को नागवार गुजरी और उसने गाड़ी पलटा कर बुजुर्ग को रोक दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार युवक ने पहले तो बुजुर्ग को जमकर गालियां दी और फिर उसके ऊपर तमाचो की बरसात कर दी। यहीं उसका मन नहीं भरा तो उसने किसी नुकीली चीज से बुजुर्ग के सिर पर वार कर उसे लहूलुहान कर दिया। इसी बीच बुजुर्ग को किसी ने अस्पताल पहुंचाया। यह पूरा घटनाक्रम शहर के स्टेशन रोड थाने के बाहर चल रहा था। युवक इतना बेख़ौफ़ था कि उसे पुलिस थाने तक का डर नहीं था।
मानवीयता को शर्मसार करने वाले इस मामले में हद तो तब हो गई जब आरोपी युवक को थाने लाया गया तो उसने बुजुर्ग के परिजनों को धमकी भरे अंदाज में यह तक कह डाला कि बूढ़ा है इसलिए कम मारा!

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network