धमकी भरा पत्र मिलने के बाद अभिभाषकों में रोष, कार्य से रहें विरत, प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने व की सुरक्षा की मांग

धमकी भरा पत्र मिलने के बाद अभिभाषकों में रोष, कार्य से रहें विरत, प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने व की सुरक्षा की मांग

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम जिला अभिभाषक संघ के अध्यक्ष अभय शर्मा को इस्तीफा नहीं देने पर गोली मारने की धमकी देने और उपाध्यक्ष तथा सचिव से भी इस्तीफा देने के धमकी भरे पत्र को लेकर अभिभाषकों में रोष व्याप्त है। तीन दिन बाद भी धमकी देने वाले का पता नहीं चल पाया है। इसके विरोध में अभिभाषकों ने गुरुवार को न्यायालय में काम नहीं किया व न्यायालीयन कार्य से दूर रहकर एसडीएम अभिषेक गेहलोत को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। न्यायालय में अभिभाषकों के कार्य से विरत रहने से कामकाज ठप रहा। ज्ञापन में एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने व अभिभाषकों की सुरक्षा की मांग की है।
दोपहर में बड़ी संख्या में अभिभाषक न्यायालय परिसर में एकत्र हुए। इसके बाद वे कलेक्टर कार्यालय पहुंचे, जहां उपाध्यक्ष नीरज सक्सेना ने ज्ञापन का वाचन किया। अध्यक्ष अभय शर्मा व अन्य अभिभाषकों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। अभिभाषक सुनील पारिख ने बताया कि ज्ञापन में कहा गया है कि 26 अक्टूबर को अभिभाषक संघ के अध्यक्ष अभय शर्मा को उनके चैम्बर में डाक से आया धमकी भरा लिफाफा मिला था। जिसमें कापी के पेज में पत्र था। पत्र में लिखा था अध्यक्ष अभय शर्मा कल तक अपने पद से इस्तीफा देगा, साथ में उपाध्यक्ष व सचिव भी इस्तीफा दे। पत्र में अभ्रद भाषा का उपयोग करते हुए यह भी था कि ऐसा न होने पर हम तुझे गोली मार देंगे। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि गोली तुझे लगे या तेरे परिवार को। पत्र के अंत में वसीम नाम लिखा है। इसके बाद स्टेशन रोड थाने पर प्रकरण दर्ज कराया गया था।
परिवार भी भयभीत
उक्त पत्र मिलने से अभिभाषकों में सनसनी फैल गई व उनमें रोष है। वहीं पत्र मिलने की घटना से अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सचिव व उनका परिवार भयभीत है। अभिभाषकों द्वारा कई बार मध्यप्रदेश शासन से एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग की गई व प्रशासन को ज्ञापन दिए गए लेकिन अभी तक एडवोकेट प्रोक्टेशन एक्ट अस्तित्व में नहीं आया है। इस कारण धमकी मिलना आम होता जा रहा है। भविष्य में इस प्रकार की घटनाओं की पुनर्रावति नहीं हो, इसलिए हर संभव कदम उठाकर अभिभाषकों को सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया जाए। शीघ्र है एडवोक्ट प्रोटेक्शनएक्ट लागू करने के संबंध मे कार्यवाही की जाए।
यह रहें मौजूद
इस अवसर पर अभिभाषक फतेहलाल कोठारी, सुभाष उपाध्याय,निर्मल कटारिया शांतिलाल मालवीय, योगेश अधिकारी, रामपाल पाटीदार, अशोक शर्मा, सुनील जैन, योगेश शर्मा, प्रणय ओझा, सतीश पुरोहित, कमलेश पालीवाल, एसएन जोशी, देवेंद्र सरदाना, राजीव ऊबी, शीतल गेलड़ा, संतोष त्रिपाठी, हेमराज कसेड़िया, अभिवन उपाध्याय, रिजवान खोखर, राजकुमार मित्तल, चंद्रमोहन मेहता, अंजना रााणा, प्रीति सोलंकी, सुनीता वासनवाल, कृष्णा मीणा, जितेंद्र शाह अशोक चाष्टया, राजेंद्र सिंह चौहान, वीरेंद्र कुलकर्णी, प्रदीप बदंवार, रजनीश शर्मा, विवेक उपाध्याय सहित बड़ी संख्या में अभिभाषकगण उपस्थित थे।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.