कांग्रेस का प्रदर्शन : ठेकेदारों से कमिशन की वसूली में नगर निगम मस्त और शहर की जनता पानी के लिए त्रस्त

कांग्रेस का प्रदर्शन : ठेकेदारों से कमिशन की वसूली में नगर निगम मस्त और शहर की जनता पानी के लिए त्रस्त

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम में व्याप्त भारी जल संकट एवं अन्य गंभीर समस्याओं को लेकर एक बार फिर सोमवार को कांग्रेस ने हल्लाबोल प्रदर्शन किया। दिलबहार चौराहा (स्टेशन रोड) पर धरना-प्रदर्शन के दौरान शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र कटारिया ने नगर-निगम की कार्यप्रणाली पर गंभीर आरोप लगाए। प्रदर्शन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि नगर-निगम ठेकेदारों से कमिशन की वसूली में मस्त है और शहर की जनता पानी सहित मूलभूत सुविधाओं के लिए त्रस्त बनी हुई है। प्रदर्शन को पूर्व सांसद प्रतिनिधि राजीव रावत, वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री यास्मीन शेरानी सहित शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष मीना बग्गा ने भी संबोधित किया।

दिलबहार चौराहा (स्टेशन रोड) पर प्रदर्शन स्थल पर बड़ी संख्या में कांग्रेस के पदाधिकारी, कार्यकर्त्ता सहित निगम की कार्यप्रणाली से नाराज लोग एकत्र होने लगे थे। दोपहर 1 बजे तक कांग्रेस के प्रदर्शन पश्चात कलेक्टर एवं नगर निगम प्रशासक के नाम ज्ञापन एसडीएम संजीव पांडेय को सौंपा। इसके बाद शहर विधायक चेतन्य काश्यप को प्रतिदिन जलवितरण की घोषणा की स्मरण के लिए विधायक कार्यालय कांग्रेसजन पत्र सौपने की बात पर अड़े। सुरक्षा की दृष्टि से विधायक निवास वाले मार्ग पर बेरीकेड्स लगाकर कांग्रेस को रोका गया। एसडीएम पांडेय ने कांग्रेस पदाधिकारियों से कहा कि वह पत्र उन्हें सौंप दें। उनके माध्यम से उक्त पत्र विधायक कार्यालय पहुंचा दिया जाएगा। प्रदर्शन स्थल पर राजीव रावत ने शहर विधायक एवं निगम प्रशासन द्वारा पूर्व में प्रतिदिन जल देने की घोषणा को झूठा बताया।

वर्तमान में 4-4 दिन तक नहीं मिल रहे पानी को लेकर शहरवासियों की समस्या पर जोर दिया। वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री यास्मीन शेरानी ने जलसंकट के अलावा सफाई व्यवस्था पूरी तरह से ठप्प होने और अधिकारियों की मनमानी पर प्रकाश डाला। वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री शेरानी ने करोड़ों की सीवरेज लाइन जाम होने की वजह से पेयजल की लाइनों में भी दिक्कत आने और जिम्मेदारों द्वारा मूकदर्शक रहने का भी गंभीर आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन के अधिकारियों सहित कर्मचारियों का रवैया पूर्णता अड़ियल एवं तानाशाही पूर्वक हो गया है। शहर की गरीब भोली भाली जनता से पट्टे देने के नाम पर आवेदन करवा दिए गए उन आवेदनों की जांच भी नहीं की गई। इन सब बातों को लेकर कांग्रेस द्वारा धरना स्थल से जिम्मेदारों को चेतावनी भी दी गई।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.