कांग्रेस की चेतावनी बिजली कंपनी अधिकारी अपनी कार्यप्रणाली सुधार लें, नहीं तो हमे आता हैं, बढ़ते बिजली बिल के विरोध में प्रदर्शन

कांग्रेस की चेतावनी बिजली कंपनी अधिकारी अपनी कार्यप्रणाली सुधार लें, नहीं तो हमे आता हैं, बढ़ते बिजली बिल के विरोध में प्रदर्शन

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
बिजली विभाग द्वारा आम उपभोक्ताओं को भारी-भरकम बिल देने के विरोध में मध्यप्रदेश कांग्रेस के आह्वान पर जिला शहर कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में विद्युत कंपनी कार्यालय के बाहर गुरुवार को धरना दिया।
जिला (शहर) कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष महेंद्र कटारिया ने कहा की कांग्रेस की कमलनाथ सरकार द्वारा जो आम जनता को राहत दी जा रही थी, आम जनता के हित में जितने फैसले लिए थे उन सारे फैसलों को भारतीय जनता पार्टी सरकार ने पलटकर आम जनता से लूटमारी शुरू कर दी। इंदिरा ज्योति योजना के माध्यम से गरीब उपभोक्ताओं को कांग्रेस ने राहत दी थी, उसके विपरीत भारी-भरकम बिल दिए जा रहे हैं। कोरोना काल में मुख्यमंत्री द्वारा बिल माफी का कहा गया लेकिन बिल माफ तो नहीं हुए उल्टे भारी-भरकम वसूली के बिल पहुंचा दिए गए।
जिला कांग्रेस (ग्रामीण) अध्यक्ष व सैलाना विधायक हर्ष विजय गेहलोत ने कहा की विद्युत कंपनी ने अपनी कार्यप्रणाली नहीं सुधारी व गरीब आदिवासियों को मजदूरों को आम नागरिकों को अगर बिजली बिल में राहत नहीं पहुंचाई तो कंपनी की ईट से ईट बजा दी जाएगी।
आलोट विधायक मनोज चावला ने बिजली कंपनी के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि जिस तरीके से कंपनी आम उपभोक्ताओं से लूटमार कर रही है अगर उसको नहीं सुधारा गया तो हम कंपनी के अधिकारियों को सुधार देंगे। कार्यक्रम को पूर्व महापौर पारस दादा, रजनीकांत व्यास, शांतिलाल वर्मा, अरविंद सोनी, मुबारिक खान, राजीव रावत, बसंत पंड्या, विजय सिंह चौहान आदि ने संबोधित किया।
धरना स्थल पर पूर्व गृहमंत्री भारत सिंह, जेम्स चाको, राकेश झालानी, वीरेंद्र सिंह सोलंकी, थावर भूरिया, प्रभु राठौड़, सुजीत उपाध्याय सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता, पदाधिकारी उपस्थित थे। अंत में विद्युत मंडल कंपनी के एसी सुरेश चंद्र वर्मा को ज्ञापन सौंपा। संचालन जोएब आरिफ ने किया। आभार विनोद मिश्रा मामा ने माना।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.