35.7 C
Ratlām
Monday, April 22, 2024

जयपुर दहलाने का षड्यंत्र : रतलाम में आतंकी तारों को जोड़ रही एजेंसी, दवा व्यापारी को लेकर न्यूरोड पहुंची राजस्थान पुलिस

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
जयपुर दहलाने से पहले नाकाबंदी में गिरफ्तार रतलाम के आतंकियों के मंसूबों की खोज में जुटी राजस्थान पुलिस ने मंगलवार को नाहरपुरा स्थित दवा व्यापारी फिरोज को हिरासत में ले लिया। राजस्थान पुलिस रिमांड पर गिरफ्तार आतंकियों को मंगलवार को नकाब पहनाकर भारी सुरक्षा के बीच फिरोज का सामना कराया गया। इस दौरान फिरोज का चेहरा फीका पड़ गया और वह पुलिस के साथ मुँह नीचाकर अलग-अलग दुकानों पर पंहुंचा। दवा व्यापारी फिरोज ने कट्टरपंथी सूफा आतंकी संगठन को कहाँ से कौनसी मदद पहुंचाई, इसकी जांच शुरू कर दी है। मंगलवार दोपहर करीब 2.30 बजे संदिग्ध फिरोज को राजस्थान पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी न्यूरोड स्थित मारुति इंटरप्राइजेस पर लेकर पहुंचे और वहाँ से खरीदा गया केमिकल सहित अन्य सामान की जानकारी जुटाई गई। करीब पौन घण्टे तक दुकान बंद करवाकर जांच की गई। इसके पूर्व संदिग्ध फिरोज को नाहरपुरा स्थित एक मकान के अलावा चांदनीचौक स्थित इंदरमल समरथमल कलर (रंग) दुकान पर भी ले जाकर सम्बंधित दुकानदारों से खरीदी सामग्री की जानकारी जुटाई गई।
बता दें कि 30 मार्च को अफीम की सूचना पर निंबाहेड़ा (राजस्थान) की सदर पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान रतलाम की कार क्रमांक एमपी-43 सीए-7091 से 12 किलो आरडीएक्स जब्त किया था। कार में सवार रतलाम निवासी आतंकी अल्तमस पिता बशीर शेरानी, सैफुद्दीन उर्फ सैफुल्लाह पिता रमजानी दोनों निवासी शेरानीपुरा एवं जुबेर पिता फकीर मोहम्मद निवासी आनंद कॉलोनी की गिरफ्तार पश्चात पूछताछ में जयपुर सीरियल बम ब्लास्ट को अंजाम देने के लिए बड़ी मात्रा में विस्फोटक सहित अन्य संवेदनशील उपकरण जब्ती का मामला उजागर हुआ। रतलाम के तीन गिरफ्तार हुए आंतकियों की निशानदेही पर राजस्थान पुलिस ने टोंक से आतंकी फरहान और मुजीब को गिरफ्तार किया था। इसके बाद राजस्थान एटीएस के इनपुट पर कट्टरपंथी सूफा संगठन का मास्टरमाइंड इमरान खान निवासी मोहननगर सहित आमीन फावड़ा और आमीन पिता अब्दुल को पकडक़र राजस्थान पुलिस के सुपुर्द किया था। मामले में राजस्थान एटीएस मास्टरमाइंड इमरान सहित सभी आतंकियों को रतलाम लाकर जमीनीस्तर पर जांच कर रही है। मंगलवार को भी गिरफ्तार आतंकियो के उगलने पर दवा व्यापारी संदिग्ध फिरोज को हिरासत में लेकर जांच में जुटी रही। सोमवार को भी दिन के अलावा देर रात में भी एमपी और राजस्थान की सयुंक्त पुलिस टीम ने दोबारा गिरफ्तार और संदिग्धों के मकान और खेत पर तलाशी लेने के साथ उनकी भूमिकाओं के संबंध में तार जोड़े हैं।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network