महालक्ष्मी मंदिर के खजाने की गिनती हुई पूरी, दो साल की सजावट के मुकाबले कम निकली दान राशि, दान पात्र से क्या-क्या निकला देखे यहां

महालक्ष्मी मंदिर के खजाने की गिनती हुई पूरी, दो साल की सजावट के मुकाबले कम निकली दान राशि, दान पात्र से क्या-क्या निकला देखे यहां

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम के माणकचौक स्थित प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर के खजाने की गिनती पूरी हो गई है। दो साल बाद खुले दान पात्र से कुल 2 लाख 18 हजार 824 रुपए की दान राशि प्राप्त हुई है। जबकि पिछले दो साल में दीपावली के मौके पर लाखों रुपए से सजावट की गई थी।
मंगलवार सुबह 11.50 बजे नाजिर ईश्वर खराड़ी के निर्देशन में करीब 10 पटवारियों की टीम ने दान पात्र का ताला खोल दान में आए नोटों की गिनती शुरू की। जो कि दोपहर करीब 4 बजे तक चली। एक रुपए के नोट से लेकर 2 हजार रुपए के नोट व चिल्लर (सिक्के) मिलाकर कुल 218824 रुपए प्राप्त हुए। मालूम हो कि इससे पहले 19 अक्टूम्बर 2019 को दान पात्र खोला गया था। तब 1 लाख 41 हजार 307 रुपए की दान राशि प्राप्त हुई थी। वहीं इसके पहले 05 जनवरी 2019 को दान पात्र खोलने पर 2 लाख 14 हजार 354 रुपए की राशि प्राप्त हुई थी। वहीं पिछले दो वर्ष की दीपावली पर मंदिर पर की गई सजावट के मुकाबले दान राशि काफी कम है।
देखे क्या-क्या निकला
दान पात्र में से 2000 के 2, 500 के 130, 200 के 441, 50 के 518, 20 के 700, 10 के 3042, 5 के 17, 2 के 9 व 1 रुपए का 1 नोट निकला।
30700 के सिक्के निकले
दान पात्र में नोट के अलावा काफी मात्रा में सिक्के भी निकले। जिन्हें गिनकर अलग अलग थैली बनाकर रखा गया। जिनमे 10 रुपए की 15 थैली कुल 15 हजार, 5 रुपए की 19 थैली कुल 9500, 2 रुपए की 18 थैली कुल 3600, 1 रुपए की 26 थैली कुल2600 रुपए सभी को मिलाकर कुल 30700 रुपए के सिक्के प्राप्त हुए। इसके अलावा प्रतिकात्मक लोहे के आभूषण जिसमे एक पायजब, एक सिक्का, चांदी के दो सिक्के भी निकले है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.