रूस पर आर्थिक प्रहार : संयुक्त राज्य अमेरिका के अलावा कई देशों ने लगाए वित्तीय प्रतिबंध

रूस पर आर्थिक प्रहार : संयुक्त राज्य अमेरिका के अलावा कई देशों ने लगाए वित्तीय प्रतिबंध

दिल्ली, वन्देमातरम् न्यूज।
यूक्रेन की स्थिति बिगड़ती ही जा रही है। ऐसे में कई देशों ने रूस (Russia) पर प्रतिबंध लगाने शुरू कर दिए हैं। इसी दिशा में रूस (Russia) पर आर्थिक प्रहार (New financial sanctions) करते हुए यूरोप आयोग (Europe Commission), फ्रांस (France), जर्मनी (Germany), इटली (Italy), यूके (UK), कनाडा और संयुक्त राज्य अमेरिका (Canada-USA) ने यूक्रेन पर हुए हमले के खिलाफ नए वित्तीय प्रतिबंधों को मान्यता जारी कर दी।
इन सभी ने रूस के बैंकों को ‘स्विफ्ट’ (SWIFT) से बाहर करने पर सहमति जताई है। अमेरिका सहित कई देश पहले भी रूस पर प्रतिबंध लगा चुके हैं।हथियारों के साथ मदद के लिए आगे आए फ्रांस और जर्मनी वहीं, समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, फ्रांस यूक्रेन को और सैन्य उपकरण भी देगा। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के कार्यालय के हवाले से यह जानकारी दी गई है। वहीं इससे अलग जर्मनी भी सैन्य मोर्चे पर यूक्रेन की मदद के लिए आगे आया है। एएफपी के अनुसार, जर्मनी का कहना है कि वह यूक्रेन को 1,000 टैंक रोधी हथियार, 500 ‘स्टिंगर’ सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल भेजेगा। जर्मनी अपने हवाई क्षेत्र को रूसी उड़ानों के लिए बंद भी करेगा।

यूक्रेन को अमेरिका ने दी सैन्य सहायता
अमेरिका द्वारा यूक्रेन को दी जाने वाली 35 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त सैन्य सहायता में “बख्तर-रोधी उपकरण, छोटे हथियार और विभिन्न प्रकार के गोला-बारूद तथा अन्य चीजें” शामिल हैं। पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने यह जानकारी दी इस सहायता की घोषणा शनिवार को की गई थी। रक्षा विभाग के अन्य अधिकारी ने बताया कि इस सहायता में जेवलिन टैंक रोधी हथियार शामिल होंगे तथा इन्हें चरणबद्ध तरीके से जल्द से जल्द यूक्रेन को मुहैया कराया जाएगा। अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि यूक्रेन को पिछले कुछ दिन में सैन्य सहायता दी गई है और आगे भी इस पर विचार किया जाएगा।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.