जीएसटी कार्रवाई : तीन दिन जांच के बाद 12 करोड़ टैक्स चोरी पकड़ी, 1 करोड़ से अधिक राशि जमा कराई, बायो डीजल व्यवसाई पर भी हुई कार्रवाई

जीएसटी कार्रवाई :  तीन दिन जांच के बाद 12 करोड़ टैक्स चोरी पकड़ी, 1 करोड़ से अधिक राशि जमा कराई, बायो डीजल व्यवसाई पर भी हुई कार्रवाई

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम के औद्योगिक क्षेत्र (इंडस्ट्रियल एरिया) में तीन दिन तक चली जीएसटी के राज्य (स्टेट) कर विभाग की कार्रवाई पूरी हो गई है। टीम ने दो फर्म की जांच के बाद करीब 12 करोड़ रुपए का कर अपवंचन विक्रय (टैक्स चोरी) निकाला है। प्लास्टिक पाइप व्यवसाई से मौके पर 1.8 करोड़ रुपए जमा कराए गए है।
बता दे कि जीएसटी विभाग के एंटीईविजन ब्यूरो इंदौर की टीम मंगलवार को रतलाम पहुंच कर जांच में जुटी थी। गुरुवार देर रात को कार्रवाई पूरी हुई। विभागीय सूत्रों के अनुसार रतलाम के 2 व्यवसाइयों के यहां पिछले 3 दिनों से जीएसटी कर के जॉइंट कमिश्नर आरके सलूजा के नेतृत्व में एंटीईविजन- ब्यूरो इंदौर की टीम जांच कर रही थी। टीम ने फैक्टरी में स्टॉक, बिल वाउचर का मिलान, फैक्टरी में रखे माल के स्टॉक की जांच के साथ ही सेल्स और सामग्री खरीदी (पर्चेस) की भी जानकारी जुटाई। जांच के बाद टीम ने लगभग 12 करोड़ रुपए का कर अपवंचन विक्रय निकाला गया। प्लास्टिक पाइप व्यवसायी से मौके पर लगभग 1.8 करोड़ रुपए जमा कराए। मालूम हो कि इंडस्ट्रियल एरिया में डीपीके प्लास्टिक प्राइवेट लिमिटेड पर जीसटी की कार्रवाई चल रही थी।
बायो डीजल व्यवसाई पर भी हुई थी कार्रवाई
विभागीय सूत्रों के अनुसार इसी टीम द्वारा 10 दिन पहले रतलाम एवं इंदौर के 6 बायो डीजल व्यवसायियों के यहां भी कार्रवाई की थी। कार्रवाई के दौरान लगभग 6.5 करोड़ की राशि जमा कराई गई। लगातार हो रही कार्रवाई से कर चोरी करने वाले व्यवसाइयों में डर का माहौल है।

इनका कहना है

लगभग 12 करोड़ रुपए का कर अपवंचन विक्रय (टैक्स चोरी) निकाला गया है। प्लास्टिक व्यवसाई से मौके पर 1.8 करोड़ की राशि जमा कराई है। 10 दिन पहले भी कार्रवाई की गई थी।
आरके सलूजा, जॉइंट कमिश्नर, जीएसटी कर

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.