जिले में अवैध शराब का धंधा, आबकारी विभाग निशाने पर, एक्साइज डिपार्टमेंट के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का इंतजार

जिले में अवैध शराब का धंधा, आबकारी विभाग निशाने पर, एक्साइज डिपार्टमेंट के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का इंतजार

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
अवैध शराब की बिक्री के खिलाफ सीएम के आदेश को दरकिनार करने वाला जिला आबकारी विभाग कलेक्टर के निशाने पर आ गया है। जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों के ढाबो पर नियम विपरीत शराब परोसने और बेचने का अवैध धंधा बड़े पैमाने पर फल-फूल रहा है।

हाल ही में नामली फोरलेन स्थित ढाबे पर शराब को लेकर हुए विवाद सुर्खियां बटोर रहा है। सोशल मीडिया से कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम को प्राप्त हुई जानकारी के बाद विभागीय जांच में सामने आया की जिला आबकारी विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों की संलिप्पता अवैध शराब की बिक्री को बढ़ावा दे रही है। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम की और से नामली क्षेत्र के आबकारी उपनिरीक्षक चेतन वैद को नोटिस जारी करने के बाद ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना ने सहायक जिला आबकारी अधिकारी आरसी बारोड के खिलाफ नामजद शिकायत की। एक्शन मोड़ में नजर आ रहे कलेक्टर ने सहायक जिला आबकारी अधिकारी आरसी बारोड को नोटिस जारी कर कार्यप्रणाली पर कई सवाल खड़े किए हैं। तीन दिन के भीतर सहायक जिला आबकारी अधिकारी आरसी बारोड और आबकारी उपनिरीक्षक चेतन वैद को जवाब प्रस्तुत करना है। सूत्रों के अनुसार जवाब से संतुष्ठ नहीं होने पर कलेक्टर इनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई का मन बना चुके हैं। इधर जिले में अवैध शराब की बिक्री से अपराध और दुर्घटनाओं के ग्राफ का बढ़ना भी प्रमुख कारण माना जा रहा है, इसलिए सहायक जिला आबकारी अधिकारी आरसी बारोड और आबकारी उपनिरीक्षक चेतन वैद के खिलाफ जिलेवासियों को सख्त कार्रवाई की उम्मीद है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.