पुनर्स्थापना पर ध्यान नहीं : फुटकर दुकानदारों को हटाया, परेशान विक्रेता बोले प्रशासन हमें जहर दे दे

पुनर्स्थापना पर ध्यान नहीं : फुटकर दुकानदारों को हटाया, परेशान विक्रेता बोले प्रशासन हमें जहर दे दे

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
आंबेडकर भवन और कर्मचारी राज्य बीमा निगम कार्यालय के सामने फुटपात पर बैठ परिवार का पेट पालने वालों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान जमकर नाराजगी देखी गई। नगर निगम प्रशासन ने फुटपात पर व्यापार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई से पहले उनके पुनर्स्थापना पर ध्यान नहीं दिया।

मुहिम में शामिल उपयंत्री व कर्मचारियों से फुटकर विक्रेता स्थान पूछते रहे तो टीम उन्हें नया स्थान नहीं बता सकी। प्रभावित फुटकर सब्जी व पानी पताशे सहित चाट के ठेले वालों को यहां तक कहना पड़ा कि एक तरफ हम कोरोना से उभर नहीं पाए और प्रशासन मनमानी पूर्वक सामान जब्त कर रहा है, इससे अच्छा तो यह है कि प्रशासन हमें जहर दे दे।

सामग्री जब्त करता निगम का अमला।

बिरसामुंडा जयंती के दिन सोमवार को अवकाश के बावजूद नगर निगम का अमला आंबेडकर भवन और कर्मचारी राज्य बीमा निगम कार्यालय के सामने फुटकर दुकान विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंचा। उपयंत्री राजेंद्र मिश्रा के नेतृत्व में कार्रवाई के दौरान फुटकर और सब्जी विक्रेता काफी मिन्नते करते नजर आए। सब्जी विक्रेताओं में शामिल महिलाओं ने अपने बच्चों के पेट पालने के लिए रोजी-रोटी नहीं छिनने की मनुहार लगाई तो दूसरी तरफ उक्त क्षेत्र में पानी पताशे सहित अन्य खान-पान के ठेला संचालकों ने पुनर्स्थापना का स्थान नहीं बताने पर मनमानी पूर्वक कार्रवाई कर काफी नाराजगी जाहिर की। सूत्रों की मानें तो भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई पर लगभग रोक लगने के बाद नगर निगम ने वापस निम्न तपके के लोगों के खिलाफ अतिक्रमण मुहिम शुरू कर दी है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.