27.6 C
Ratlām
Sunday, June 23, 2024

नल जल योजनाओं में गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं, गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं, ग्रामीणों से लेंगे फिडबैक

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
जिले में संचालित जल जीवन मिशन के अन्तर्गत हर घर में नल से जल पहुंचाने के लिए क्रियान्वित की जा रही नल जल योजनाओं की प्रगति की समीक्षा कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम द्वारा गुरुवार को गई। कलेक्टर ने स्पष्ट कहा कि नल जल योजनाओं में गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। कोई भी गडबडी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
कलेक्टर ने कहा कि वे स्वयं उन गांवों में पहुंचेंगे जहां योजना क्रियान्वित की जा रही है ग्रामीणों से फीडबैक लेगे कि योजना से उनके जीवन में क्या बदलाव आया है।
कलेक्टर ने निर्देश दिए कि पूर्ण हो चुकी योजनाओं के संचालन एवं संधारण की सुनियोजित ढंग से तैयारी की जाएसमय पर पंचायतों को योजनाएं हैण्डओवर कर दी जाए। योजना संचालन के लिए गांव से वाल्वमेन के रुप में लोगों को प्रशिक्षित किया जाना हैइसके लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम बनाया जाए। सीईओ जिला पंचायत द्वारा जिले में पूर्ण योजनाओं का सत्यापन करते हुए जो कमियां बताई गई हैंउनको तय समयसीमा में सुधारा जाए। कलेक्टर ने सभी पीएचई एसडीओ से पूछा कि वे पूर्ण हो चुकी योजनाओं की गुणवत्ता से संतुष्ट हैं अथवा नहीं। स्कूलोंआंगनवाडियो में नल से जल उपलब्ध कराने के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली गई।बैठक में सीईओ जिला पंचायत मीनाक्षीसिंह,कार्यपालन यंत्री पीके गोगादेजिला सलाहकार आनन्द व्यासविभाग के एसडीओ आदि उपस्थित थे।
266 योजनाओं में से 44 ही पूर्ण
जिले में मिशन के तहत 44 योजनाएं पूर्ण कर ली गई है। 266 योजनाएं स्वीकृत की गई हैं। अभी 142 योजनाएं प्रगतिरत हैं। इनमें से भी 38 योजनाएं लगभग पूर्णता की ओर हैं। जिन गांवों में योजनाओं पर कार्य पूर्ण कर लिया गया है उनमें विकासखण्ड आलोट विकासखण्ड के 14 ग्रामों में योजना पूर्ण कर ली गई है। जावरा में चार योजनाएं व पिपलौदा में दो व रतलाम में नौ योजनाएं पूरी की गई हैं।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network