आउटसोर्स कर्मचारी अवकाश पर, गड़बड़ाई बिजली व्यवस्था, 60 से अधिक शिकायतें पेंडिंग

आउटसोर्स कर्मचारी अवकाश पर, गड़बड़ाई बिजली व्यवस्था, 60 से अधिक शिकायतें पेंडिंग

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
मप्र बिजली आउटसोर्स कर्मचारी संगठन से जुड़े कर्मचरियों के सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाने से शहर सहित जिले की बिजली व्यवस्था प्रभवित हुई है। रतलाम शहर में सुबह १० बजे बाद से दोपहर तक करीब 60 से अधिक शिकायतें लंबित हो गई। इस वजह से उपभोक्ताओं की परेशानी बढ़ गई। साथ ही आउटसोर्स कर्मचारियों की कमी के चलते बिजली कंपनी को अपने ग्रिडों पर कंपनी के ही कर्मचारी व्यवस्था में जुटाने पड़े।
पहले दिन हड़ताली कर्मचारियों की सुनवाई नहीं होने से दोपहर में सभी आक्रोश्ति हो गए। उन्होंने कंपनी कार्यालय परिसर में जमकर नारेबाजी की।
एक माह पहले चेतावनी का असर नहीं
आउटसोर्स कर्मचारियों का कहना एक माह पहले हड़ताल की चेतावनी के बावजूद उनकी सुनवाई नहीं की गई। इस वजह से उन्हें मजबूरन हड़ताल पर उतरने को मजबूर होना पड़ा।
3 अगस्त को ऊर्जा मंत्री को आउटसोर्स कर्मचारियों के विभागीय संविलियन संबंधी मांग का ज्ञापन सौंपा गया था। 45 दिन के बाद भी सुनवाई नहीं की गई। इस वजह से सोमवार से हड़ताल का निर्णय लिया गया।
यह काम हुआ प्रभावित
आउटसोर्स कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से ग्रिड ऑपरेटिंग, लेबर संबंधित कार्य, मीटर रीडिंग, लाइन मेंटेनेंस के अलावा कार्यालयों में कम्प्यूटर आँपरेटर संबंधी कार्य भी प्रभावित हुआ हैें। मामले में कार्यपालय यंत्री (शहर संभाग) विनय प्रताप सिंह ने बताया कि आउटसोर्स कर्मचारियों के अभाव में दिन में उपभोक्ताओं की फ्यूज संबंधी शिकायतों का निदान नहीं हो सका। करीब 60 से अधिक शिकायतें लंबित है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.