लापरवाही : इंदौर के एमवाय अस्पताल से रतलाम जेल का बंदी फरार, लोकेंद्रभवन मार्ग पर मचाया था उत्पात

- Advertisement -

इंदौर/रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
इंदौर के एमवाय अस्पताल (M.Y. Hospital, Indore ) के कैदी वार्ड से सोमवार सुबह एक रतलाम जेल का बंदी पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। इसके कारण काफी देर तक अस्पताल में हडक़म्प मचा रहा। दरअसल जो बंदी भागा है, वह रतलाम में कुछ दिनों पहले लोकेंद्र भवन मार्ग पर उत्पात मचाने के दौरान सीएसपी के वाहन चालक का हाथ तोड़ने के अलावा अन्य 4 दुकानदार और राहगीरों को घायल कर चुका है।
जानकारी के अनुसार घटना 11.30 बजे की बताई जा रही है। जब एक बंदी कालू उर्फ कमल पिता अमरसिंह निवासी भगवानगंज (थाना खरगौन) अस्पताल के कैदी वार्ड से भाग खड़ा हुआ। घटना के वक्त रतलाम डीआरपी लाइन के तीन जवान इधर उधर गए थे और मौके का फायदा उठाकर बंदी भाग खड़ा हुआ। जब जवानों को उसके भागने की खबर मिली तो वे उसकी खोजबीन में जुट गए। इधर जिला पुलिस विभाग ने भी मामले की जाँच शुरू कर दी है।

- Advertisement -


बंदी के फरार होने की सूचना मिली
सीएसपी के ड्राइवर सहित पांच लोगों के साथ सरेराह मारपीट करने का आरोपी कालू को उपचार के लिए पुलिस लाइन के जवानों के साथ एमवाय हॉस्पिटल इंदौर भेजा था। सुबह करीब 11.30 बजे वह अस्पताल के जेल वार्ड से चकमा देकर फरार हुआ है। – वीबी प्रसाद, जेलर, जिला जेल रतलाम

- Advertisement -

Related articles

कलेक्टर ने सपत्नीक देखी हस्तशिल्प प्रदर्शनी : शिल्पिकारों की कलाओं को सराहा, कहां हस्तनिर्मित इन वस्तुओं में कलाकार की भावना काफी महत्वपूर्ण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प हथकरघा विकास निगम का प्रयास सदैव सराहनीय रहा है। सरकार ने भी...

50 से ज्यादा हस्तशिल्पिकारों की कलाकारी एक ही स्थान पर : कंपनी को मात देते दूधी के जूते, बहुत कुछ है इस हस्तशिल्प मेले...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम के रोटरी हॉल अजंता टॉकीज रोड पर चल रहे हस्तशिल्प मेले में 50 से ज्यादा हस्तशिल्पों के...

हस्तशिल्प मेले में एक से बढ़कर एक कारीगरी : भोपाल से आए कलाकार की अनूठी कला, कलात्मक हस्तशिल्प सामग्री बनी आकर्षण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मृगनयनी, संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, मध्यप्रदेश शासन द्वारा रोटरी हॉल अजंता...

वर्चस्व की लड़ाई में सजा : बहुप्रतिक्षित फैसले में भदौरिया ग्रुप के आरोपियों को 7 वर्ष तो अंबर ग्रुप के आरोपियों को 6 वर्ष...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।एक दशक पूर्व रतलाम के जूनियर इंस्टीट्यूट के सामने शिखा बार में दो पक्षों के बीच...
error: Content is protected by VandeMatram News