रेलवे गार्ड कहलाएंगे ट्रेन मैनेजर, रेलवे बोर्ड में प्रक्रिया अंतिम चरण में

रेलवे गार्ड कहलाएंगे ट्रेन मैनेजर, रेलवे बोर्ड में प्रक्रिया अंतिम चरण में

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
ट्रेनों के परिचालन में महती भूमिका निभाने वाले रेलवे गार्ड आगामी दिनों में ट्रेन मैनेजर कहलाए जाएंगे। रेलवे बोर्ड स्तर पर इसकी कार्रवाई जारी है। आदेश जल्दी ही जारी हो इसके लिए रतलाम मंडल के गार्ड ने एनएफआईआर के महासचिव डॉ.एम राघवैया से मामले में दखल करने की बात कही।
बता दें कि रतलाम में वेरे मजदूर संघ गार्ड की केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान गार्ड राघवैया से मिले। मंडल मंत्री बीके गर्ग के निर्देशन में राजधानी गार्ड चंपालाल गडवानी (संयुक्त मंडल मंत्री) एवं सुशील यादव (शाखाअध्यक्ष, उज्जैन/सीडब्ल्यूसी सदस्य ) के नेतृत्व में गार्ड्स की अन्य मांगों पर भी ध्यान आकर्षित कराया। जिसमें एमएसीपी का गार्ड केटेगिरी को लाभ दिलाने, 10 हजार रुपए ड्रेस अलाउंस देने, कॉलिंग लिमिट में नाइट ड्यूटी का भुगतान, 1 जनवरी 2020 से 1 जून 2021 तक का डीए एरियर भुगतान जैसी मांगे भी राघवैया के समक्ष पेश की।
मामले में राजधानी गार्ड चंपालाल ने बताया कि गार्ड को ट्रेन मैनेजर पद में तब्दील करने संबंधित प्रक्रिया बोर्ड स्तर पर जारी है। इसके आदेश में देरी की जा रही है। वही राघवैया ने गार्ड को अवगत कराया कि बोर्ड में यह मामला अंतिम चरण में है।
राघवैया मुलाकात में एनके जांगिड़, गौरव संत, संजय यादव, सुरजीत सिंह, गौरव भटनागर, आरके पांडे, प्रशांत कटोड़ा सहित रतलाम मंडल के कई गार्ड उपस्थित रहे।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.