ऐसे तो दहल जाता रतलाम! अफीम की सूचना पर हाथ लगा RDX, पुलिस सहित सुरक्षा एजेंसियों का खुफिया तंत्र फेल, रतलाम में सर्चिंग शुरू

- Advertisement -

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम के तीन संदिग्ध आतंकियों को राजस्थान पुलिस ने भारी मात्रा में विस्फोटक पदार्थो (RDX) के साथ गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपियों द्वारा जयपुर में आंतकी साजिश को अंजाम देने का खुुुुलासा किया। संदिग्ध आतंकियों की राजस्थान में गिरफ्तारी के बाद रतलाम पुलिस सहित सुरक्षा एजेंसियों की पोल खोल कर रख दी। अब रतलाम पुलिस गिरफ्तार आरोपियों के आतंकी कनेक्शनों की जांच में जुटी। रतलाम से दो और संदिग्धों को भी हिरासत में लिया।
राजस्थान के चित्तौड़गढ़ की निम्बाहड़ा थाना सदर पुलिस ने अफीम तस्करी की सूचना पर चेकिंग दौरान रतलाम की कार क्रमांक mp-43 ca-7091 से 12 किलो RDX सहित अन्य आपत्तिजनक उपकरण जब्त किए। भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बाद राजस्थान पुलिस ने आनन-फानन में तीनो संदिग्धों को राजस्थान एटीएस के हवाले किया और मध्यप्रदेश एटीएस को सूचना दी। ऐसे में केंद्र, राज्य सहित रतलाम पुलिस की खुफिया तंत्र पर सवाल खड़े हो गए की पूर्व में भी रतलाम में आतंकी संगठनों की गतिविधियों के बावजूद इतनी बड़ी साजिश की भनक क्यों नहीं लगी? अब पूरे मामले में एनआईए (राष्ट्रीय अन्वेषण ब्यूरो) और आईबी (आसूचना ब्यूरो) काम में जुट गई।

- Advertisement -

वन्देमातरम् न्यूज के 5 प्रमुख सवाल
1- रतलाम में RDX कहां से आया ?
2- गिरफ्तार 3 संदिग्ध आतंकी किस संगठन से जुड़े?
3- गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी को रतलाम में ऑपरेट कौन कर रहा था ?
4- पूर्व में आपराधिक गतिविधियों के बाद भी आरोपियों पर नजर क्यों नहीं रखी जा रही थी ?
5- संदिग्ध स्थल और लोगों के निवास स्थान सहित उनसे संपर्क में रह रहे लोगों की जांच क्यों नहीं हुई ?

- Advertisement -

लापरवाही बन सकती थी बड़ी मुसीबत
राजस्थान पुलिस ने कुल 12 किलों विस्स्फोटक पदार्थ (RDX), तीन कंटेनर मय वायर, प्लास्टिक शीशी, बल्ब ,वायर और बलेनो (MP-43 CA-7091) कार बरामद की। जब्त कार का मालिक इमरान पिता मोहम्मद आमीन निवासी डोसिगांव के पारसनगर निवासी बताया जा रहा है। भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री का उपयोग संदिग्ध आतंकी रतलाम में भी कर सकते थे। होली पूर्व एटीएस ने भोपाल में आतंकियों को गिरफ्तार कर अन्य जिलों में अलर्ट घोषित किया था। इसके बावजूद रतलाम पुलिस सहित अन्य सुरक्षा एजेंसियों की लापरवाही पूरे मामले में देखने को मिली।

तस्दीक करती पुलिस टीमें
- Advertisement -

क्या बोले रतलाम एसपी अभिषेक तिवारी
रतलाम के तीनों गिरफ्तार आरोपियों के ठिकानों के अलावा अन्य सहयोगियों के बारे में पता लगाया जा रहा है। संदिग्ध स्थलों की तलाश जारी है। संदिग्धों से लगातार पूछताछ की जा रही है।

- Advertisement -

Related articles

हस्तशिल्प मेले में एक से बढ़कर एक कारीगरी : भोपाल से आए कलाकार की अनूठी कला, कलात्मक हस्तशिल्प सामग्री बनी आकर्षण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मृगनयनी, संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, मध्यप्रदेश शासन द्वारा रोटरी हॉल अजंता...

वर्चस्व की लड़ाई में सजा : बहुप्रतिक्षित फैसले में भदौरिया ग्रुप के आरोपियों को 7 वर्ष तो अंबर ग्रुप के आरोपियों को 6 वर्ष...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।एक दशक पूर्व रतलाम के जूनियर इंस्टीट्यूट के सामने शिखा बार में दो पक्षों के बीच...

खुशखबर : ग्राम सुराणा में 49 लाख की लागत से बन रहा उपस्वास्थ केंद्र, ग्रामीण विधायक मकवाना ने सामुदायिक भवन के लिए की 7...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।जिले के ग्राम सुराणा में 49 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाले उप स्वास्थ्य...

पर्यावरण को नुकसान : स्थानक निर्माण के लिए पेड़-पौधे किए नष्ट, मामले में एडवोकेट पांचाल ने की उच्चस्तरीय शिकायत

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज। मेसर्स शुभम कंस्ट्रक्शन की मंगलम सिटी में नवकार जैन श्वैताम्बर श्री संघ न्यास द्वारा सर्विस एरिया...
error: Content is protected by VandeMatram News