पाली में पकड़ाए जावरा के संदिग्ध युवक का रतलाम में है ससुराल, पुलिस ने परिजनों से की पूछताछ

पाली में पकड़ाए जावरा के संदिग्ध युवक का रतलाम में है ससुराल, पुलिस ने परिजनों से की पूछताछ

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
राजस्थान के पाली जिले के रास थाना क्षेत्र के आर्मी एरिया में सेना के जवानों ने एक संदिग्ध युवक को पकड़ा है। उक्त युवक से पूछताछ की जा रही है। युवक मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के जावरा का रहने वाला है। रतलाम में ससुराल है। रविवार को जावरा शहर थाने में परिजनों से भी पुलिस ने पूछताछ की है।

बता दे कि राजस्थान के पाली जिले के रास थाना क्षेत्र के आर्मी एरिया में सेना के जवानों ने एक संदिग्ध युवक को पकड़ा है। उक्त युवक से वहां की पुलिस के अलावा खुफिया एजेंसियां भी पूछताछ कर रही है। अभी तक कि जांच व पूछताछ में सामने आया है कि युवक का नाम अजरुद्दीन मेवात है। इसके मोबाइल से मुंबई हमले के आतंकी कसाब, पुलवामा हमले सहित देश में हुए अन्य आतंकी हमलों और देश विरोधी कार्यों की सर्च हिस्ट्री मिली है। जिसके कारण युवक से गहनता से पूछताछ की जा रही है।

एसपी गौरव तिवारी

जावरा के मेवातीपुरा में है घर
पकड़ाए गए संदिग्ध युवक अजरुद्दीन का जावरा के मेवाती पूरा में मकान है। जिसमे उसके पिता, मां, पत्नी, तीन बच्चे और एक छोटा भाई रहता है। इसके अलावा एक बड़ा भाई है। अजरुद्दीन दूसरे नंबर का है। अजरुद्दीन की पत्नी का मायका रतलाम में है। अजरुद्दीन की पत्नी के अनुसार जैसे ही इस बारे में जानकारी मिली और पुलिस का जवान बुलाने आए तो हम थाने आ गए। अजरुद्दीन पहले जावरा में हम्माली करता था। इसके बाद वह लहसुन प्याज का व्यापार करने लगा। गाड़ी भरकर पाली व ब्यावर आता जाता रहता था। जब भी बाहर से आते तो स्वभाव चिड़चिड़ा हो गया और पत्नी के साथ भी मारपीट करने लगा। करीब 6-7 साल से वह घर से दूर है। कभी आता भी नहीं। छोटे भाई सादिक के अनुसार व्यापार में घाटा होने के कारण करीब 6-7 साल से वह ब्यावर में ही बस गया था। लेकिन जावरा नहीं आया और नहीं कभी बातचीत करता था। मेरी भी डेढ़ साल पहले बात हुई थी। एक माह पहले भाई की शादी होने पर उसे बुलाने गया था, लेकिन नहीं मिला।
घर की ली तलाशी
संदिग्ध अजरुद्दीन के जावरा के मेवतीपुरा में घर है। यहां पर भी पुलिस ने पहुंच कर घर की तलाशी ली है। रविवार को जावरा शहर थाने में सीएसपी अभिषेक आनंद, थाना प्रभारी वीडी जोशी के अलावा खुफिया एजेंसियां पूछताछ करती रही। वहीं एसपी गौरव तिवारी भी हर एक अपडेट लेते रहे।
पत्नी महिला थाने में दे चुकी है आवेदन
संदिग्ध अजरुद्दीन के तीन बच्चे भी है। पत्नी व बच्चों को साथ नहीं रखने व आजीविका के लिए आर्थिक मदद नहीं करने के कारण पत्नी ने अजरुद्दीन के खिलाफ करीब साल भर पहले महिला थाने में आवेदन भी दे चुकी है। वर्तमान में बच्चे और वह सास ससुर (अजरुद्दीन के माता पिता) के साथ ही जावरा में रहती है।
प्रतिबंधित आर्मी एरिया में घूमते हुए पकड़ा था
जानकारी के अनुसार पाली रास क्षेत्र स्थित प्रतिबंधित आर्मी एरिया में घूमते हुए पकड़ा था। जवानों ने युवक से पूछताछ की तो उसने आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे से मिलने की बात कही। जिसके बाद संदेह होने पर सेना द्वारा उसे रास थाना पुलिस को सौंप दिया गया। रास थाना पुलिस की पूछताछ में युवक ने अपना नाम अजहरूद्दीन मेवात बताया। साथ ही उसने बताया कि वह जावरा रतलाम (मध्यप्रदेश) का मूल निवासी है। वह पिछले करीब छह साल से ब्यावर के चांगगेट क्षेत्र में आलू-प्याज का ठेला लगाता है और दो साल से किशनगंज क्षेत्र में किराए पर रह रहा हैं।
डायरी में लिखा मिला ‘मिशन पूरा’

ब्यावर के किशनगंज स्थित युवक के कमरे की ब्यावर सिटी पुलिस ने तलाशी ली तो वहां से एक डायरी मिली। इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह सहित अन्य के बारे में उर्दू में लिखी कुछ जानकारी मिली। इसके अलावा डायरी व कुछ नक्शे, कोडवर्ड में लिखे कुछ दस्तावेज मिले हैं। डायरी के अंतिम पेज पर ‘मिशन पूरा’ लिखा हुआ है। इस आधार पर पुलिस ने युवक को देश विरोधी गतिविधि के संदेह में हिरासत में लिया। वह आर्मी एरिया में क्यों आया और कैसे आया, इस बारे में उससे आर्मी एजेंसी व सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ कर रही थी।

जावरा में तलाशी के दौरान ऐसा कुछ नहीं मिला है और नहीं कोई ऐसी संलिप्तता यहां मिली है। पाली पुलिस पूछताछ कर रही है। जो भी जानकारी मांगी जाएगी उपलब्ध कराई जाएगी। पारिवारिक विवाद को लेकर उसकी पत्नी उसके खिलाफ पूर्व में महिला थाने में आवेदन दिया था।
गौरव तिवारी, एसपी रतलाम

फोटो- जावरा स्थित अजरुद्दीन का मकान।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.