श्रद्धा के केंद्र है शहर के खड़े गणपति, चहूं ओर गणपति बप्पा की धूम

श्रद्धा के केंद्र है शहर के खड़े गणपति, चहूं ओर गणपति बप्पा की धूम

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
10 दिवसीय गणेश उत्सव की शुरूआत शुक्रवार से हुई। सुबह से ही रतलाम शहर के गली, मोहल्लों में ढोल ढमाकों के साथ गणपति बप्पा की जय जयकार गूंजती रही। ऐसा कोई सा वाहन नही था जिस पर गणपति बप्पा सवार होकर विराजमान हुए। शहर के गणेश देवालयों को भी रंग बिरंगी आकर्षक रोशनी से सजाएं गए।
गणेश उत्सव को लेकर शहर में काफी उत्साह है। गणेश मंदिरों में पूजा-अर्चना अभिषेक के साथ ही विभिन्‍न
कार्यक्रम होंगे। रतलाम के उंकाला रोड स्थित उंकाला खड़े गणपति जी का भी आकर्षक श्रंगार किया गया। 11 फीट की मूर्ति का यह गणेश मंदिर बरसो पुराना होकर शहर सहित दूर दूर से भक्तजन दर्शन के लिए यहां आते है। बताया जाता है कि गणेशजी की मूर्ति की सूंड बायीं ओर रहती है लेकिन इस मूर्ति में दायीं ओर है। इस बारे में कहा जाता है कि दायीं ओर सूंड जिस गणेश मूर्ति की होती है वहां मन्नत करने पर मनोकामना पूर्ण होती है। विवाह और मांगलिक कार्यक्रमों की पहली पत्रिका भी सबसे पहले यहां अर्पण की जाती है।
चिंतामन गणेश जी का मंदिर भी सजा

श्री चिंतामन गणेश जी।

शहर के पैलेस रोड स्थित श्री चिंतामन गणेश मंदिर पर भी आकर्षक विद्युत सज्जा की गई है। भगवान श्री गणेश की प्रतिमा को आकर्षक श्रंगार किया गया। 10 दिन तक यहां भी आयोजन होंगे।
पंचामृत से किया अभिषेक
गणेश चतुर्थी के पावन पर्व पर गुरुवार श्री कसारा उकाला खड़े गणेश जी मंदिर पर अभिषेक समाज के संजय कसेरा व समाजजनों द्वारा किया गया। भगवान गणेश जी का पंचामृत और शुद्ध जल से अभिषेक में परिवार के सभी सदस्य और समाजजन शामिल हुए। अभिषेक के बाद देर रात को चोला चढ़ाया गया। शुक्रवार दोपहर 12 बजे भगवान की जन्म उत्सव आरती की गई। शाम 7 बजे भी आरती की जाएगी।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.