चोरों की मौज : अनसुलझी वारदातों को सुलझाने में नाकाम पुलिस नहीं रोक पा रही नई वारदात

चोरों की मौज : अनसुलझी वारदातों को सुलझाने में नाकाम पुलिस नहीं रोक पा रही नई वारदात

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम शहर में पुलिस की निष्क्रियता से चोरों के हौंसले बुलंद बने हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद भी पुलिस बदमाशों का सुराग नहीं तलाश लगा पा रही है, जिससे आमजन में सिलसिलेवार चोरी की वारदातों से असुरक्षा का भय व्याप्त है। सप्ताहभर पूर्व दिनदहाड़े योगी विहार कॉलोनी स्थित रेलकर्मी के सूने मकान से 16 लाख के आभूषण और नकदी चोरी की वारदात हो या फिर त्रिमूर्तिनगर, डोंगरेनगर, मंगलमूर्ति, पुखराज रेसिडेंसी सहित अष्टविनायक कॉलोनी में चोरी। सभी मामलों में पुलिस की असफलता को लेकर अब कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े होने लगे हैं।
शहर में रात्रि गश्त के अलावा दिन में थाना क्षेत्र अंतर्गत बीटवार कागजों पर आलाअधिकारी चौकसी के दावे चाहे भर ले, जमीनीस्तर पर सभी कवायद बेमानी साबित हो रही है। 13 मई को दिनदहाड़े बदमाश योगी विहार कॉलोनी में रेलकर्मी दीपक पिता कल्लू बोरासी के सूने मकान को निशाना बनाकर 50 सेकण्ड में ताले को चटकाकर 16 लाख रुपए के आभूषण और नकदी चुरा ले गए। बदमाशों ने करमदी रोड स्थित संजय पिता मोहन लछेटा के यहाँ से भी दिनदहाड़े वारदात को अंजाम देकर पौने दो लाख रुपए नकद और 300 ग्राम वजनी सोने के आभूषण चुरा ले गए थे। इसके बाद 19 मई की रात बदमाशों ने तीन ऑटोमोबाइल के शो-रूम सहित एक सर्विससेंटर को निशाना बनाकर लाखों रुपए की वारदात को अंजाम देकर गश्ती पर प्रश्नचिन्ह लगा चुके हैं। सीसीटीवी कैमरे में कैद होने के बाद भी आरोपियों से पुलिस का दूर रहना चर्चा का विषय बन गया है। एक तरफ जमीनीस्तर पर पुलिसकर्मियों द्वारा काम नहीं करना और सूचना संकलनकर्ताओं को थाना प्रभारियों द्वारा दूसरे कार्यों में व्यस्त रखवाना इस नाकामी का प्रमुख कारण है। थानास्तर पर अब मुखबिर तंत्र भी पूरी तरह से खत्म हो चुका है। नतीजतन हालात ऐसे बन चुके हैं कि बदमाश आसानी से वारदात को अंजाम देकर पुलिस की कार्यप्रणाली को कठघड़े में खड़ा करने लगे। मुद्दे पर सवालातों के लिए सीएसपी हेमंत चौहान को मोबाइल लगाया लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।
जारी है तलाश
सीसीटीवी फुटेज के आधार पर संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। बस स्टैंड, रेलवेस्टेशन सहित सार्वजानिक स्थानों पर खोजबीन जारी है। चोरी की वारदातों के आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। – ओपी सिंह, टीआई- औद्योगिक थाना क्षेत्र रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.