भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के स्वागत के लिए हुई धक्का-मुक्की, घोटाले के आरोपों से घिरे सांसद मीडिया से छिपते रहे, सीएसपी ने लगाई फटकार

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के स्वागत के लिए हुई धक्का-मुक्की, घोटाले के आरोपों से घिरे सांसद मीडिया से छिपते रहे, सीएसपी ने लगाई फटकार

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
पेटलावद से नीमच जाते समय भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा रतलाम की सीमा से गुजरे। पहले से तय कार्यक्रम को देखते हुए भाजपाई सालाखेड़ी बायपास पहुंचे तो कुछ सेजावता बंजली बायपास पहुंचे। दो गुटों में बट कर अलग अलग स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत व फोटो खिंचवाने की होड़ को लेकर सालाखेड़ी पर जमकर धक्का मुक्की भी हुई। आमजन को संदेश देने के बजाए भाजपा नेता कोरोना प्रोटोकाल के नियमों को दरकिनार करते दिखे और सीएसपी को फटकार लगाना पड़ी।
बता दे कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा शनिवार सुबह 8.30 बजे सालाखेड़ी पहुंचने वाले थे, लेकिन दो घण्टे देरी से वह सुबह करीब 10.30 पर वहां पहुंचे। सालाखेड़ी पर सांसद गुमानसिंह डामोर, शहर विधायक चेतन्य काश्यप, रतलाम ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना की मौजूदगी में पदाधिकारियों ने स्वागत किया। सेजावता बंजली बायपास पर पूर्व निगम अध्यक्ष दिनेश पोरवाल, अशोक जैन चौटाला, यतेंद्र भारद्वाज, मनीष शर्मा आदि ने स्वागत किया।

कार्यकर्ताओं को समझाइश देते सीएसपी।

युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं को मिली जमकर फटकार – स्वागत के लिए बड़ी संख्या में युवा मोर्चा कार्यकर्ता भी पहुंचे। जो कि झुंड बना कर बिना मास्क के अलग से खड़े थे। मौके पर सीएसपी हेमन्त चौहान ने कार्यकर्ताओं को बिना मास्क में देख फटकार लगाई और चालानी कार्रवाई की चेतावनी दी।

आरोपी सांसद होते रहे इधर उधर – 600 करोड़ रुपए घोटाले में प्रकरण दर्ज होने के बाद रतलाम-झाबुआ सांसद गुमानसिंह डामोर मीडिया के सवालों से बचते रहे है। प्रकरण दर्ज होने के बाद वह पहली बार रतलाम की सीमा में नजर आए। प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत के दौरान भी वह मीडिया को देख इधर उधर होते रहे। वहीं प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी मीडिया से बात नहीं की। सूत्रों के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष शर्मा को आशंका थी की रतलाम की मीडिया 600 करोड़ रुपए के घोटाले में लिप्त आरोपी सासंद डामोर को लेकर सवाल करेंगे, इसलिए उन्होंने भी मीडिया से दूरी बनाकर बचते रहे।

फोटो– कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के बावजूद सत्ताधारी पार्टी भाजपा के जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों ने तोड़े खुलेआम नियम।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.