रक्तदान का महत्व बताने 3500 किमी की सायकल यात्रा पर निकले केरल के थॉमस, रतलाम आने पर रक्त मित्रों ने किया स्वागत

रक्तदान का महत्व बताने 3500 किमी की सायकल यात्रा पर निकले केरल के थॉमस, रतलाम आने पर रक्त मित्रों ने किया स्वागत

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
कोरोना काल में रक्त की कमी देख मन की पीड़ा को लेकर संकल्प के साथ कन्याकुमारी से जम्मू तक पैदल करीबन 3800 किलोमीटर एवं जम्मू से वायनाड साइकिल यात्रा करीबन 3500 किलोमीटर पर निकले केरल के मेल्विन थॉमस अपनी यात्रा के दौरान रविवार को रतलाम पहुंचे। यहां पर रतलाम के रक्त मित्रों ने उनका स्वागत कर अगवानी की।
थॉमस रक्त की कहीं कमी ना हो इसी संकल्प के साथ सायकल यात्रा पर निकले है। केरल के वायनाड के निवासी 26 वर्षीय मेलविन थॉमस का रतलाम पहुंचने पर रक्तदान के रक्त साथियों ने स्वागत किया। इनका उद्देश्य लोगो को रक्तदान के प्रति जागरूक करना है। भारत मे केवल 1% लोग ही रक्तदान करते है ऐसी स्थिति में रक्त का संकट बना रहता है।रक्तमित्र दिलीप के भंसाली व राजेश पुरोहित के साथ ही मानव सेवा समिति अध्यक्ष मोहन मुरलीवाला, सब्जी मंडी व्यापारी संघ, रक्तदान जीवनदान परिवार एवं एसडीपी डोनर टीम रतलाम मुन्ना भाई वर्मा , लक्की पांचाल, बादल वर्मा, महेश सोलंकी, मो. शोएब शेख, कान्हा टांक, इरफान मंसूरी, रिंकू पाटीदार, कमलेश पाटिदार, लक्की अग्रवाल, नीलेश शर्मा व रतलाम के रक्त साथियों ने स्वागत कर आगे की यात्रा के लिए शुभकामनाएं दी।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.