27.4 C
Ratlām
Sunday, September 25, 2022

मालगाड़ी वैगन में ऐसे होती सेंध : शातिर डीजल चोर गिरोह आरपीएफ के मूवमेंट पर रखता था नजर, अब तक 14 आरोपी गिरफ्तार और 4 की तलाश

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
इंडियन ऑइल के बांगरोद स्थित डिपो से डीजल लेकर जा रही मालगाड़ी के वैगन से बड़ी मात्रा में डीजल चोरी में गिरफ्तार गैंग के 14 आरोपियों ने राज उगल सुरक्षा बंदोबस्त पर सवाल खड़े कर दिए हैं। 18 सदस्यीय डीजल चोर गिरोह के तार मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान सहित अन्य प्रान्तों से जुड़े हैं। यह पहली मर्तबा नहीं है कि डीजल चोर गिरोह ने वारदात को अंजाम दिया। इसके पूर्व भी इस गिरोह ने अनेकों बार स्थानीय सुरक्षा व्यवस्था से सांठगांठ कर और आरपीएफ (रेलवे सुरक्षा बल) के आला अधिकारियों के कार्यालयों के मूवमेंट पर नजर रख वारदात को अंजाम दे चुके हैं, जो की रेलवे स्टेशन और सुरक्षा बल कार्यालयों के सीसीटीवी में कैद हैं।
बता दें कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के वरिष्ठ अधिकारियों को 28-29 अगस्त की रात सूचना मिली थी की इंडियन ऑइल के बांगरोद स्थित डिपो से मालगाड़ी के वैगन सागर जिले के लिए रवाना हो रहे हैं। मालगाड़ी डिपो से जैसे ही मैन लाइन पर खड़ी हुई। पहले से बंदोबस्त कर बैठी डीजल चोर गैंग वैगन पर चढ़ पाइप डालकर डीजल कैनों में भर रहे हैं। आरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों ने सिविल ड्रेस और सामान्य वाहन से टीम को मौके पर भेजा। इसके पूर्व डीजल चोर गिरोह को इसकी भनक लग गई थी और वह मौके से भाग गए थे। मौके से डीजल भरी 107 कैन जब्त की। जाँच के आधार पर आरपीएफ ने शुरुआत में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया। इनकी निशानदेही पर मांगलिया (इंदौर) का एक मास्टर माइंड मुकेश परमार सहित 5 आरोपियों को अलग-अलग स्थानों से दबोचा। डीजल चोर गिरोह का मास्टर माइंड मुकेश परमार 10 सितंबर तक रिमांड पर है। गिरोह में शेष 4 फरार आरोपियों की आरपीएफ को तलाश है।

दो मास्टर माइंड चलाते डीजल चोर गिरोह
वंदेमातरम् न्यूज
ने जमीनी स्तर पर पड़ताल कर जानकारी जुटाई है कि 20 सदस्यीय डीजल चोर गिरोह को दो मास्टर माइंड चलाते हैं। मालगाड़ी के वैगन से बड़ी मात्रा में डीजल चोरी के दौरान गिरोह का एक मास्टर माइंड ग्राम कलोरीकलां निवासी विजय पिता रमेशचंद्र कांडोर मौजूद रहता था। दूसरा मांगलिया (इंदौर) निवासी मास्टर माइंड मुकेश परमार बड़ी मात्रा में रेलवे की मालगाड़ी के वैगन से चोरी डीजल को पेट्रोल पम्प पर खपाने का काम करता था।

अभी तक 14 आरोपी हो चुके गिरफ्तार
बांगरोद रेलवे स्टेशन से मालगाड़ी के वैगन से डीजल चोरी के आरोप में आरपीएफ ने गिरोह के मास्टर माइंड ग्राम कलोरीकलां निवासी विजय पिता रमेशचंद्र कांडोर, मांगलिया (इंदौर) निवासी मुकेश परमार, राजू उर्फ राजेश पंक्चर पिता सुखराम, बांगरोद निवासी सुखदेव पाटीदार, नयागांव निवासी प्रभू मईडा, बांगरोद निवासी बालमुकुंद धाकड़, पालिया रोड निवासी अनुज कुमार उर्फ चीनू, जड़वासाकलां निवासी हरिनारायण बैरागी, मधुसूदन बैरागी, वीरेंद्र सिंह, अजय, विजय, सागर, गोपाल को गिरफ्तार किया जा चुका है।

शेष आरोपियों की टीम कर रही तलाश
डीजल चोरी मामले में अभी तक 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। शातिर डीजल चोर गिरोह के तार अन्य प्रान्तों से भी जुड़े हुए हैं। प्रकरण में अभी 4 आरोपियों की तलाश जारी है। इसके लिए टीम गठित कर दी गई है। जल्द ही शेष आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। – मोहम्मद आर अंसारी, आइपीएफ- रेलवे सुरक्षा बल रतलाम (मप्र)

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

Latest Articles

error: Content is protected by VandeMatram News