मालगाड़ी वैगन में ऐसे होती सेंध : शातिर डीजल चोर गिरोह आरपीएफ के मूवमेंट पर रखता था नजर, अब तक 14 आरोपी गिरफ्तार और 4 की तलाश

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
इंडियन ऑइल के बांगरोद स्थित डिपो से डीजल लेकर जा रही मालगाड़ी के वैगन से बड़ी मात्रा में डीजल चोरी में गिरफ्तार गैंग के 14 आरोपियों ने राज उगल सुरक्षा बंदोबस्त पर सवाल खड़े कर दिए हैं। 18 सदस्यीय डीजल चोर गिरोह के तार मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान सहित अन्य प्रान्तों से जुड़े हैं। यह पहली मर्तबा नहीं है कि डीजल चोर गिरोह ने वारदात को अंजाम दिया। इसके पूर्व भी इस गिरोह ने अनेकों बार स्थानीय सुरक्षा व्यवस्था से सांठगांठ कर और आरपीएफ (रेलवे सुरक्षा बल) के आला अधिकारियों के कार्यालयों के मूवमेंट पर नजर रख वारदात को अंजाम दे चुके हैं, जो की रेलवे स्टेशन और सुरक्षा बल कार्यालयों के सीसीटीवी में कैद हैं।
बता दें कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के वरिष्ठ अधिकारियों को 28-29 अगस्त की रात सूचना मिली थी की इंडियन ऑइल के बांगरोद स्थित डिपो से मालगाड़ी के वैगन सागर जिले के लिए रवाना हो रहे हैं। मालगाड़ी डिपो से जैसे ही मैन लाइन पर खड़ी हुई। पहले से बंदोबस्त कर बैठी डीजल चोर गैंग वैगन पर चढ़ पाइप डालकर डीजल कैनों में भर रहे हैं। आरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों ने सिविल ड्रेस और सामान्य वाहन से टीम को मौके पर भेजा। इसके पूर्व डीजल चोर गिरोह को इसकी भनक लग गई थी और वह मौके से भाग गए थे। मौके से डीजल भरी 107 कैन जब्त की। जाँच के आधार पर आरपीएफ ने शुरुआत में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया। इनकी निशानदेही पर मांगलिया (इंदौर) का एक मास्टर माइंड मुकेश परमार सहित 5 आरोपियों को अलग-अलग स्थानों से दबोचा। डीजल चोर गिरोह का मास्टर माइंड मुकेश परमार 10 सितंबर तक रिमांड पर है। गिरोह में शेष 4 फरार आरोपियों की आरपीएफ को तलाश है।

दो मास्टर माइंड चलाते डीजल चोर गिरोह
वंदेमातरम् न्यूज
ने जमीनी स्तर पर पड़ताल कर जानकारी जुटाई है कि 20 सदस्यीय डीजल चोर गिरोह को दो मास्टर माइंड चलाते हैं। मालगाड़ी के वैगन से बड़ी मात्रा में डीजल चोरी के दौरान गिरोह का एक मास्टर माइंड ग्राम कलोरीकलां निवासी विजय पिता रमेशचंद्र कांडोर मौजूद रहता था। दूसरा मांगलिया (इंदौर) निवासी मास्टर माइंड मुकेश परमार बड़ी मात्रा में रेलवे की मालगाड़ी के वैगन से चोरी डीजल को पेट्रोल पम्प पर खपाने का काम करता था।

अभी तक 14 आरोपी हो चुके गिरफ्तार
बांगरोद रेलवे स्टेशन से मालगाड़ी के वैगन से डीजल चोरी के आरोप में आरपीएफ ने गिरोह के मास्टर माइंड ग्राम कलोरीकलां निवासी विजय पिता रमेशचंद्र कांडोर, मांगलिया (इंदौर) निवासी मुकेश परमार, राजू उर्फ राजेश पंक्चर पिता सुखराम, बांगरोद निवासी सुखदेव पाटीदार, नयागांव निवासी प्रभू मईडा, बांगरोद निवासी बालमुकुंद धाकड़, पालिया रोड निवासी अनुज कुमार उर्फ चीनू, जड़वासाकलां निवासी हरिनारायण बैरागी, मधुसूदन बैरागी, वीरेंद्र सिंह, अजय, विजय, सागर, गोपाल को गिरफ्तार किया जा चुका है।

शेष आरोपियों की टीम कर रही तलाश
डीजल चोरी मामले में अभी तक 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। शातिर डीजल चोर गिरोह के तार अन्य प्रान्तों से भी जुड़े हुए हैं। प्रकरण में अभी 4 आरोपियों की तलाश जारी है। इसके लिए टीम गठित कर दी गई है। जल्द ही शेष आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। – मोहम्मद आर अंसारी, आइपीएफ- रेलवे सुरक्षा बल रतलाम (मप्र)

Related articles

रतलाम का स्थापना दिवस उत्सव : महाराजा रतनसिंह अलंकरण सम्मान समारोह के साथ हास्य और वीर रस की बहेगी बयार

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम स्थापना महोत्सव समिति व नगर निगम के संयुक्त तत्वावधान में रतलाम का स्थापना दिवस बसंत...

21 घंटे में दूसरी बार : दिवेल के बाद अब चिकलाना में दो पक्ष आमने-सामने, उपसरपंच की शिकायत पर 4 के खिलाफ FIR

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।जिले की हवा पिछले कुछ घन्टो से बदली-बदली नजर आ रही है। 21 घन्टे के बाद...

छोटी सी बात पर बड़ा विवाद : मंदिर परिसर में मोबाइल फोन पर चर्चा के दौरान गाली-गलौच पर टोकना नहीं आया रास, ग्रामीण विधायक...

सैलाना/ रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।सैलाना थाना अंतर्गत ग्राम दिवेल में मंदिर परिसर में मोबाइल पर चर्चा के दौरान गाली-गलौच...

शासन की उदासीनता : तो क्या प्रदेशभर में डॉक्टर कर देंगे काम करना बंद ? 38 जिलों से म.प्र. चिकित्सक संघ निकालेगा यात्रा

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मध्यप्रदेश के चिकित्सा स्तर को बेहतर बनाने अब डॉक्टरों की फौज यात्रा निकालने का मूड बना...
error: Content is protected by VandeMatram News