सीएम हेल्पलाइन : खराब परफॉर्मेंस पर शहर छोड़कर सभी तहसीलदारों को नोटिस, जिपं प्रदेश के प्रथम पांच जिलों में शामिल

सीएम हेल्पलाइन : खराब परफॉर्मेंस पर शहर छोड़कर सभी तहसीलदारों को नोटिस, जिपं प्रदेश के प्रथम पांच जिलों में शामिल

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता के मुख्यमंत्री हेल्पलाइन कार्यक्रम की समीक्षा कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम द्वारा सोमवार को बैठक में की गई। खराब परफॉर्मेंस पाए जाने पर रतलाम शहर को छोड़कर बाकी सभी स्थानों के तहसीलदारों को शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए। शिकायतों के निराकरण में रतलाम जिला पंचायत ए ग्रेड हासिल कर प्रदेश के प्रथम पांच जिलों में शामिल हुई है।
बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि राजस्व विभाग के अधिकारी आवेदकों शिकायतकर्ताओं के आवेदनों का निराकरण संतुष्टिपूर्वक करें। निराकरण में टालु प्रवृत्ति के शब्दों का उपयोग नहीं किया जाए। जहां आवश्यक हो पटवारी को भेजकर शिकायतकर्ता से बात की जाए। यदि वह संतुष्ट है तो फोर्स क्लोज किया जाए।
कलेक्टर ने जताई नाराजगी
कलेक्टर द्वारा अन्य विभागों की भी समीक्षा मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के तहत की गई। समय अवधि पत्रों की  बैठक में सामाजिक न्याय विभाग की मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में निराकरण की रैकिंग 43 पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त की गई। सुधार लाने के निर्देश दिए गए। सहकारिता विभाग का प्रदर्शन भी कमजोर पाया गया। नगर निगम का परफारमेंस उत्कृष्ट पाया गया। कलेक्टर ने स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी विभाग की रैकिंग 20 से नीचे नहीं जाने पाए। उचित मूल्य दुकानों से वितरित होने वाले राशन की समीक्षा भी की गई। सभी एसडीएम तथा तहसीलदारों को निर्देश दिए कि उचित मूल्य दुकानों को चेक करते रहें।

प्रथम पांच जिलों में शामिल होकर अव्वल रहा जिपं

जिला पंचायत वार स्कोर की जानकारी।

20 अगस्त को जारी सीएम हेल्पलाइन में जिला पंचायत रतलाम ए ग्रेड में शामिल होते हुए प्रदेश के प्रथम पांच जिलों में शामिल हुआ है।
जिला पंचायत सीईओ मीनाक्षी सिंह के मार्गदर्शन में जनपद पंचायत के सीईओ, क्लस्टर प्रभारी एवं  181 टीम की मैदानी टीम के प्रयास से यह संभव हुआ है। सीएम हेल्पलाइन जिपं के नोडल अधिकारी एसएच मंसूरी ने बताया कि इस बार ए ग्रेड हासिल करना बड़ा चुनौतीपूर्ण था लेकिन सभी ने अथक प्रयास करके वरिष्ठ अधिकारी के मार्गदर्शन में ए ग्रेड मिला है। सहयोगी भूपेंद्र पंड्या एवं मुकेश बघेल सहित जिला, जनपद पंचायत के नोडल, शाखा प्रभारी तथा जिला, जनपद स्तर के अन्य साथियों की मेहनत से शिकायतों के निराकरण में प्रदेश के प्रथम पांच जिलों में शामिल होकर जिला पंचायत को ए ग्रेड प्राप्त हुई है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.