कचरू राठौड़ सहित अन्य दो आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज, गिरफ्तारी के बाद कचरू को छुड़वाने पहुंचे ग्रामीण बैरंग लौटे

कचरू राठौड़ सहित अन्य दो आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज, गिरफ्तारी के बाद कचरू को छुड़वाने पहुंचे ग्रामीण बैरंग लौटे

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
समीपस्थ ग्राम पलसोड़ा में एक माह पूर्व प्रताड़ना से तंग आकर ग्रामीण द्वारा खुदकुशी के मामले में नामली पुलिस ने ब्लैकमेलर कचरू राठौड़ सहित दो अन्य आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। रविवार सुबह ब्लैकमेलर कचरू राठौड़ को गिरफ्तार करने पहुंची नामली पुलिस के सामने उसके पक्ष के कुछ युवाओं ने हंगामा किया तो बाद में गिरफ्तार कचरू राठौड़ को छुड़ाने थाने पहुंचे। हालांकि कचरू राठौड़ को छुड़ाने पहुंचे समर्थकों को नाकामयाबी हाथ लगी और उन्हें उल्टे पैर वापस लौटना पड़ा।
16 जनवरी 2022 को प्रताडऩा से तंग आकर पलसोड़ा निवासी मुकेश पिता रामचंद्र माली ने कीटनाशक पीया था, जिसकी 17 जनवरी की सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई थी। पीएम रिपोर्ट पश्चात मामले की जांच में जुटी नामली पुलिस के सामने मृतक मुकेश माली के परिजन ने बयान दिए कि घटना की सुबह मृतक मुकेश के पुत्र ईश्वर से राधेश्याम पिता प्रेमचंद्र आंजना के घर के बाहर मोटरसाइकिल में टक्कर लग गई थी। इसके बाद आरोपी कचरू पिता तेजराम राठौड़, प्रहलाद पिता हेमराज आंजना एवं राधेश्याम पिता प्रेमचंद आंजना तीनों निवासी पलसोड़ा ने दुर्घटना स्थल पर वीडियो बनाकर मुकेश माली के घर पहुंच एक लाख रुपए नकद, नई मोटरसाइकिल सहित जमीन विवाद का केस वापस लेने के लिए धमकाया था। आरोपियों ने उक्त दुर्घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल कर दबाव बनाया था। पुलिस ने मृतक मुकेश माली की पत्नी अनीता माली और पुत्र ईश्वर माली के बयान तथा साक्ष्य के आधार पर तीनों आरोपियों के खिलाफ भादंवि की धारा 306 एवं 385 सहित 34 में प्रकरण दर्ज किया।

गिरफ्तारी के दौरान भी ब्लैकमेलर ने किया हंगामा
शनिवार रात थाने पर प्रकरण दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपी कचरू राठौड़ को टीआई प्रीति कटारे के नेतृत्व में गांव पलसोड़ा गिरफ्तार करने पहुंची। गिरफ्तारी के दौरान आरोपी कचरू राठौड़ ने पुलिस को सत्तापक्ष के दबाव में कार्रवाई करने का आरोप लगाता रहा। इसके अलावा आरोपी कचरू ने अपने समर्थकों को भी एकत्र कर लिया था, लेकिन उसकी एक नहीं चली और पुलिस उसे गांव से गिरफ्तार करके सीधे थाने पहुंची।

लंबे समय से धमका रहा था कचरू
प्रताड़ना से तंग होकर खुदकुशी करने वाले मुकेश माली की पत्नी अनीता ने बताया कि उसके और कचरू के बीच एक जमीन का विवाद लंबे समय से चल रहा था। 16 जनवरी को उनके पुत्र ईश्वर से कार क्रमांक एमपी-43 सी-4095 से आरोपी राधेश्याम आंजना की मोटरसाइकिल को टक्कर लगने के बाद ब्लैकमेलर कचरू राठौड़ को दोबारा धमकाने का मौका मिला। आरोपी कचरू राठौड़ राधेश्याम और प्रहलाद के साथ हमारे घर पहुंचा था और उसने मुकेश सहित अनीता और उनके पुत्र ईश्वर को धमकाते हुए एक लाख रुपए नकदी, नई मोटरसाइकिल सहित जमीन विवाद का केस वापस लेने के लिए काफी धमकाया था।

फोटो – कचरू राठौड़ की गिरफ्तारी के बाद थाने पहुंचे ग्रामीण।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.