24.7 C
Ratlām
Tuesday, July 23, 2024

बाल चिकित्सालय नए रूप में तैयार, सोमवार से होगा शुरू, कलेक्टर ने देखी व्यवस्था, अस्पताल के बाहर से हटेगा अतिक्रमण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।

रतलाम का शासकीय  बाल चिकित्सालय अब सुंदर स्वरूप में नजर आने लगा है। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के निर्देश पर बाल चिकित्सालय में विभिन्न कार्य किए जाकर इसे सर्वविधायुक्त बनाया गया है। अब चिकित्सालय में बच्चों के लिए 63 ऑक्सीजन बेड की सुविधा उपलब्ध है जो पूर्व में मात्र 10 बेड की थी। सोमवार से अस्पताल शुरू हो जाएगा। इसके साथ बाल चिकित्सालय व एमसीएच के बाहर से भी अतिक्रमण हटाया जाएगा।

कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम

कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने गुरुवार को बाल चिकित्सालय का निरीक्षण किया। आवश्यकता अनुसार कई कार्यों के लिए दिशा-निर्देश डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन तथा सिविल सर्जन डॉ. चंदेलकर को दिए। इस दौरान निगम आयुक्त सोमनाथ झारिया, सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर ननावरे भी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान चिकित्सालय के विभिन्न कक्षों में बेतरतीब तथा अनावश्यक फर्नीचर को हटाने के निर्देश दिए। चिकित्सालय में बिस्तरों पर मैट्रेस कवर लगाए जाएंगे, कई स्थानों पर पेंट करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा  कि बाल चिकित्सालय में भी ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की योजना पर कार्य किया जाएगा। बाल चिकित्सालय में कलेक्टर पुरुषोत्तम द्वारा व्यक्तिगत रूचि लेते हुए आमूलचूल रूप से विकास कार्य करवाए जाकर नया स्वरूप दिया गया है। प्लान के मुताबिक चिकित्सालय के कार्यों को शीघ्र अति शीघ्र पूर्ण कराने के लिए कलेक्टर द्वारा डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन को तैनात किया गया जिनके द्वारा कार्यों की सतत मॉनिटरिंग की गई। बाल चिकित्सालय में पूरा ड्रेनेज सिस्टम नए सिरे से निर्मित किया गया है। पहले जहां मात्र 10 बेड ऑक्सीजन के थे वहीं अब इनकी संख्या बढ़कर 63 कर दी गई है। ऑक्सीजन के लिए सेंट्रल लाइन बिछाई गई है, छतों पर वाटर प्रूफिंग की गई है तथा नए बेड मुहैया कराए गए।

यह हुए कार्य

बाल चिकित्सालय के गार्डन में पेवर ब्लॉक लगाए गए हैं। आईसीयू कक्ष में टाइल्स लगाई  गई, डॉक्टर के रूम में भी टाइल्स लगाई गई। चारों ओर मच्छर जालिया भी लगाई गई। कुछ विंडो खराब हो गई थी उनके स्थान पर नई एल्युमिनियम विंडो बनाई गई। चिकित्सालय परिसर में फ्लोर पर भी कार्य किया गया जिसके तहत कोटा स्टोन स्क्रेपिंग की गई, नए चैनल गेट्स लगाए गए हैं। ग्राउंड फ्लोर और फर्स्ट फ्लोर पर नए शेड वर्क किए गए, पूरे भवन में नए सिरे से इलेक्ट्रिफिकेशन किया गया है। सेनेटरी और प्लंबिंग वर्क भी पूरे भवन में कराया गया। आवश्यकता अनुसार कारपेंटिंग वर्क भी किया गया। चिकित्सालय के आउट साइड में एलिवेशन कार्य के साथ बाहरी गेट पर पेंटिंग तथा नई स्टील विंडो बनाई गई है। दीवारों पर टाइल्स लगाई गई हैं। आउटसाइड पेवर ब्लॉक, गार्डन रिचार्ज पीट, मेडिकल शेड वर्क, स्लैब, रिपेयरिंग वर्क जैसे कई कार्य चिकित्सालय परिसर में किए गए हैं। कलेक्टर के निर्देश पर नगर निगम द्वारा करवाए गए उक्त कार्यों से बाल चिकित्सालय भवन अब सर्व सुविधायुक्त, सुदृढ़ रूप तथा आकर्षक स्वरूप में अपनी सेवाएं देने के लिए तैयार हो गया है। चिकित्सालय में पेंटिंग कार्य जनसहयोग से कराया गया है।

ब्लड बैंक का निरीक्षण किया
कलेक्टर पुरुषोत्तम ने गुरुवार को ब्लड बैंक का भी निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान ब्लड बैंक परिसर में विभिन्न कार्यों की आवश्यकता जताते हुए पूर्ण जीर्णोद्धार के निर्देश दिए। खासतौर पर ब्लड बैंक परिसर में सिविल वर्क किए जाएंगे।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network