जंबूरी मैदान में उमड़ी भीड़ : आर्थिक आधार पर आरक्षण की भरी हुंकार, सरकारी मशीनरी के दांव-पेंच नहीं आए काम

ऐश्वर्य सिंह
भोपाल, वंदेमातरम् न्यूज।
भोपाल के जंबूरी मैदान में करणी सेना परिवार और सर्व समाज के ऐलान के मताबिक आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग को लेकर बड़ी संख्या में भीड़ जुट गई है। 21 सूत्रीय आंदोलन को विफल साबित करने के आरोप से घिरी राज्य सरकार को जंबूरी मैदान में बड़ी संख्या में भीड़ जुटने के बाद मुंह की खानी पड़ी। प्रदर्शन स्थल पर बनाए गए मंच से क्षत्री और क्षत्राणी सहित सर्व समाज के वक्ताओं द्वारा  सरकार को मांग पूरी नहीं करने पर सीधे-सीधे आगामी विधानसभा चुनाव के लिए चुनौती दे डाली है।

भोपाल जंबूरी मैदान में जारी प्रदर्शन।

करणी सेना परिवार और सर्व समाज के बैनर तले रविवार को राजधानी के जंबूरी मैदान में जन आंदोलन को लेकर राज्य सरकार सहित प्रशासन अलर्ट मोड़ पर था। मांगों को लेकर आंदोलन पूर्व राजपूत समाज दो धड़ में बंट गया था। एक धड़े ने प्रदेश के मंत्रियों के इशारे पर राजपूत पंचायत सीएम हाउस में करवाकर करणी सेना परिवार को इससे दूर कर दिया था। पूरे मामले में रतलाम में दोनों धड़ों की अलग-अलग हुई प्रेस वार्ता के बाद राज्य सरकार और आमजन की नजर रविवार को शुरू होने वाले जन आंदोलन में आमजनता के समर्थन पर टिकी हुई थी। शनिवार रात से जंबूरी मैदान प्रदर्शन स्थल पर अलग-अलग दिशाओं से वाहनों के काफिले के साथ पहुंचे प्रदर्शनकारियों के बाद मंसूबों पर पानी फिर गया। बता दें कि राजधानी के जंबूरी मैदान पर रवाना होने से पहले करणी सेना परिवार के यादवेंद्रसिंह तोमर ने राजपूत बोर्डिंग में आयोजित पत्रकार वार्ता में  राज्य सरकार पर जन आंदोलन में बाधा उपजाने का गंभीर आरोप भी लगा चुके थे।

जन आंदोलन शुरू होने से पहले बंट गए दो धड़
मुख्यमंत्री निवास पर राजपूत समाज के एक धड़े की मांगों पर निर्णय के बाद समाज में दो धड़ आमने-सामने हो गए हैं। समाज के एक वर्ग ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा मांगी गई मांगों का उल्लेख कर धन्यवाद ज्ञापित किया तो दूसरे ने जनआंदोलन में शामिल होने से पूर्व शनिवार को पत्रकार वार्ता की। करणी सेना परिवार के तोमर ने बताया था कि यह आंदोलन हमारे अधिकार और स्वाभिमान का है। 21 सूत्रीय मांगे सिर्फ राजपूत समाज की नहीं बल्कि समान रूप से सभी धर्म और समाज की हैं। भोपाल में जन आंदोलन से पूर्व राज्य शासन द्वारा रोके जाने के सवाल पर तोमर ने बताया था कि करणी सेना परिवार और सर्व समाज के बैनर तले अंहिसात्मक तरीके से प्रदर्शन किया जाएगा। बसों की परमिट नहीं देने के बाद सभी प्रदर्शनकारी निजी वाहनों से भोपाल प्रदर्शन में पहुंचे हैं।

Author

  • Aseem Raj Pandey

    वर्ष-2000 से निरतंर पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय। विगत 22 वर्षों में चौथा संसार, साभार दर्शन, दैनिक भास्कर, नईदुनिया (जागरण) सहित अन्य समाचार-पत्रों और पत्रिकाओं में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए वर्तमान में समाचार पोर्टल वंदेमातरम् न्यूज के प्रधान संपादक की भूमिका का निर्वहन। वर्ष-2009 में मध्यप्रदेश सरकार से जिलास्तरीय अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार के अलावा रतलाम प्रेस क्लब के सक्रिय सदस्य। UID : 8570-8956-6417 Contact : +91-8109473937 E-mail : asim_kimi@yahoo.com

Aseem Raj Pandey
Aseem Raj Pandeyhttp://www.vandematramnews.com
वर्ष-2000 से निरतंर पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय। विगत 22 वर्षों में चौथा संसार, साभार दर्शन, दैनिक भास्कर, नईदुनिया (जागरण) सहित अन्य समाचार-पत्रों और पत्रिकाओं में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए वर्तमान में समाचार पोर्टल वंदेमातरम् न्यूज के प्रधान संपादक की भूमिका का निर्वहन। वर्ष-2009 में मध्यप्रदेश सरकार से जिलास्तरीय अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार के अलावा रतलाम प्रेस क्लब के सक्रिय सदस्य। UID : 8570-8956-6417 Contact : +91-8109473937 E-mail : asim_kimi@yahoo.com

Related articles

दो माह बाद भी पिता मौत के कारणों से अंजान : मजिस्ट्रियल जांच पूरी, परिजन काट रहे अफसरों के चक्कर

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।दो माह पूर्व छात्रावास की दो छात्राओं की मौत की भले ही मजिस्ट्रियल जांच पूरी हो...

यह अंदर की बात है! “नट्टू काका” की जादूगरी से सुर्खियों में नगर सरकार, ऐसी भी वर्दी कुछ नहीं तो 50-50 रुपए से चला...

असीम राज पांडेय, केके शर्मा, जयदीप गुर्जररतलाम। नई नवेली नगर सरकार में इन दिनों "नट्टू काका" खासे सुर्खियों...

खूनी संघर्ष में युवक की हत्या: सोशल मीडिया पर कमेंट्स बना विवाद का कारण,  मृतक के शव का आज होगा पोस्टमार्टम

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।जिला मुख्यालय के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र शिवगढ़ में सोशल मीडिया पर कमेंट्स को लेकर दो पक्षों...

स्पेशल चैकिंग अभियान : बगैर टिकट रेल यात्रा अब पड़ेगी महंगी, पहले दिन रेलवे ने 197 यात्रियों से वसूले 70 हजार से अधिक

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम रेल मंडल के वाणिज्‍य विभाग की स्पेशल चैकिंग से बगैर टिकट यात्रा कर रहे यात्रियों...
error: Content is protected by VandeMatram News