सिस्टम पर भारी रसूखदार : कारोबारी अंकलेसरिया बिना अनुमति कर रहा दो बत्ती चौराहे पर निर्माण, नगर निगम अनजान

सिस्टम पर भारी रसूखदार : कारोबारी अंकलेसरिया बिना अनुमति कर रहा दो बत्ती चौराहे पर निर्माण, नगर निगम अनजान

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
दो बत्ती स्थित कारोबारी अंकलेसरिया की बिल्डिंग पर बड़े पैमाने पर मरम्मत निर्माण कार्य के दौरान भवन मालिक ने नगर निगम से अनुमति नहीं लेकर नियमों की धज्जियां उड़ाई है। व्यस्तम मार्ग पर प्रतिदिन जिला, निगम सहित यातायात विभाग के अधिकारी मौके से गुजरते हैं, लेकिन नियम विपरित हो रहे मरम्मत कार्य की तरफ ध्यान नहीं देकर कारोबारी भवन स्वामी के खिलाफ कार्रवाई से बच रहे हैं। प्रभारी सिटी इंजीनियर को वंदेमातरम् न्यूज के माध्यम से मामला संज्ञान में आया तो उन्होंने आनन-फानन में जांच के आदेश दिए। इधर बड़े पैमाने पर किए जा रहे मरम्मत कार्य को लेकर रसूखदार भवन स्वामी गुस्ताद अंकलेसरिया ने चर्चा में नगर निगम को ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत कर अनुमति लेने से इंकार किया।
शहर के 49 वार्डों में छोटे-मोटे निर्माण कार्य के दौरान वार्ड उपयंत्री निम्न तबके के लोगों की निर्माण सामग्री उठाने के साथ पंचनामा बनाकर कार्रवाई करते हैं, लेकिन अवैध निर्माण की तरफ उनका ध्यान नहीं है। समानता के नियम के अधिकार के विपरित वार्ड उपयंत्री सहित नगर निगम के आला अधिकारियों की मनमानी के चलते रसूखदार नियमों को ताक पर रखे हुए हैं। दो बत्ती स्थित रसूखदार गुस्ताद अंकलेसरिया ने सभी नियमों को ताक पर रख बेखौफ होटल गौरव की बिल्डिंग के बाहर एक बड़ा परदा लगवाकर मरम्मत कार्य जारी रख रखा है। शहर के बीचों-बीच स्थित इस मार्ग से जिले के आला अधिकारी से लेकर वार्ड उपयंत्री दिनभर में कई बार चक्कर लगाते हैं लेकिन इनमें से किसी एक ने भी अभी तक उक्त मरम्मत कार्य को लेकर अनुमति के संबंध में जानकारी लेना उचित नहीं समझा। नगर निगम की भेदभावपूर्ण कार्रवाई से आमजन में चर्चा है कि गरीब व्यक्ति एक छोटा सा मकान बनाता है तो उसका सामान जब्त कर लिया जाता है, जबकि नियम विपरित बड़े पैमाने पर दो बत्ती स्थित मुख्य चौराहे पर परदे के पीछे हो रहे मरम्मत कार्य से सभी चुप्पी साधे हुए हैं।
मामले में किसका क्या है कहना

– तत्कालीन प्रभारी सिटी इंजीनियर जीके जायसवाल ने मुझे मना किया था कि मरम्मत कार्य के लिए किसी से अनुमति की जरूरत नहीं है। बड़े पैमाने पर मरम्मत कार्य के सवाल पर अंकलेसरिया कुछ नहीं बोले। – गुस्ताद अंकलेसरिया, ऑटोमोबाइल कारोबारी
– मरम्मत कार्य के लिए विधिवत अनुमति लेना होती है। दो बत्ती स्थित अंकलेसरिया की बिल्डिंग और पुराने ऑटोमोबाइल के शो-रूम पर बड़े पैमाने पर मरम्मत कार्य का मामला संज्ञान में नहीं आया था। अभी क्षेत्र के इंजीनियर सहित वार्ड सब इंजीनियर को निर्देशित कर जांच करवाता हूं। – मोहम्मद हनिफ शेख, प्रभारी सिटी इंजीनियर-नगर निगम रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.