सड़क पर सब्जी व ठेला लगाने वालों को हटाने के विरोध में सड़क पर आए पूर्व गृह मंत्री हिम्मत कोठारी, व्यापारियों से बोले पैसा है तो गर्मी है, गरीबों की तकलीफ नहीं देखी

- Advertisement -

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
रतलाम शहर के घांस बाजार के कुछ व्यापारियों द्वारा निजी गार्ड रख लिया है। जो कि सड़क पर सब्जी बेचने वालों व ठेला चालको को हटा रहा हैं। सब्जी विक्रेताओं ने इसकी जानकारी पूर्व गृह मंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता हिम्मत कोठारी को दी।

- Advertisement -

मंगलवार सुबह कोठारी घांस बाजार पहुंचे। व्यापारियों के समक्ष उन्होंने आपत्ति ली। कोठारी का कहना था कि नगर निगम 10 रुपये की रसीद काटता है। आप लोगों को इन्हें हटाने का अधिकार नही हैं। इस दौरान कुछ व्यापारी उनसे बहस बाजी करने लगे तो कोठारी ने कहा कि नगर निगम प्रशासक कलेक्टर है उनके पास जाओ। आपको अधिकार नही है कि गरीब को सड़क पर बैठने से हटाया जाए। पैसा है तो गर्मी है गरीबों की तकलीफ नहीं देखी क्या। नगर निगम इनसे 10 रुपये की रसीद काटता है जबकि ताकि गाड़िया घर के बाहर खड़ी रहती है तो क्या रसीद कटती है क्या। गरीबों को सड़क से हटाने का किसी को भी अधिकार नही है। गरीब आधा घण्टे तक बहसबाजी चली।

- Advertisement -

कोठारी ने बताया कि गरीब व्यक्ति जैसे तैसे रोजी रोटी कमा रहा है। नियम से 10 रुपए की रसीद भी कटा रहा है। कार्रवाई करना है तो प्रसाशन करेगा, ना कि व्यापारियों को हटाने का अधिकार है।

- Advertisement -

Related articles

कलेक्टर ने सपत्नीक देखी हस्तशिल्प प्रदर्शनी : शिल्पिकारों की कलाओं को सराहा, कहां हस्तनिर्मित इन वस्तुओं में कलाकार की भावना काफी महत्वपूर्ण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प हथकरघा विकास निगम का प्रयास सदैव सराहनीय रहा है। सरकार ने भी...

50 से ज्यादा हस्तशिल्पिकारों की कलाकारी एक ही स्थान पर : कंपनी को मात देते दूधी के जूते, बहुत कुछ है इस हस्तशिल्प मेले...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम के रोटरी हॉल अजंता टॉकीज रोड पर चल रहे हस्तशिल्प मेले में 50 से ज्यादा हस्तशिल्पों के...

हस्तशिल्प मेले में एक से बढ़कर एक कारीगरी : भोपाल से आए कलाकार की अनूठी कला, कलात्मक हस्तशिल्प सामग्री बनी आकर्षण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मृगनयनी, संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, मध्यप्रदेश शासन द्वारा रोटरी हॉल अजंता...

वर्चस्व की लड़ाई में सजा : बहुप्रतिक्षित फैसले में भदौरिया ग्रुप के आरोपियों को 7 वर्ष तो अंबर ग्रुप के आरोपियों को 6 वर्ष...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।एक दशक पूर्व रतलाम के जूनियर इंस्टीट्यूट के सामने शिखा बार में दो पक्षों के बीच...
error: Content is protected by VandeMatram News