शिक्षक के ट्रांसफर के विरोध में विद्यार्थियों ने की स्कूल में तालाबंदी, धरने पर बैठे, किसान नेता ने भी किया समर्थन

- Advertisement -

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम जिले के जावरा विकासखंड के ग्राम पंचायत सरसी के शासकीय उमावि में अटैचमेंट पर पदस्थ शिक्षक देवेंद्रप्रताप सिंह राठौर का ट्रांसफर करने से नाराज विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने स्कूल में तालाबंदी कर दी। दो दिन से विद्यार्थियों का विरोध जारी था। बुधवार को विद्यार्थियों के साथ जिला पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष व किसान नेता डीपी धाकड़ भी स्कूल परिसर में धरने पर बैठ गए।

- Advertisement -

शिक्षक राठौर प्राथमिक शिक्षक है। पिछले दो वर्ष से वह शासकीय उमावि सरसी में अटैचमेंट पर पदस्थ है। कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों को अध्यापन करवा रहे थे। विद्यालय में करीब 400 से अधिक विद्यार्थियों को कोरोना काल में ऑनलाइन ग्रुप बनाकर भी पढ़ाई कराई। शिक्षक राठौर भी सरसी ग्राम के निवासी है। इस कारण वह स्कूल समय के अतिरिक्त व्यक्तिगत तौर पर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन करते रहते है। पूर्व में युक्तियुक्त करण में इनका स्थानांतरण आलोट के प्राथमिक विद्यालय अर्जला में कर दिया था। बाद में ग्रामवासियों के अनुरोध पर पुनः सरसी स्कूल में अटैचमेंट किया गया। वर्तमान में विद्यालय में 3 शिक्षक ही पदस्थ है ऐसी स्थिति में शिक्षकों की व्यवस्था की बजाए शिक्षक राठौर का शासकीय स्तर पर आलोट विकासखंड में ट्रांसफर कर दिया गया।
अधिकारी पहुंचे सरसी
स्कूल में तालाबंदी की जानकारी मिलने पर जिला शिक्षा अधिकारी केसी शर्मा, जावरा बीइओ जीएल आर्य भी पहुंचे। ग्रामीणों ने ज्ञापन देकर कहा कि शिक्षक सिसोदिया का दुर्भावनावश प्रशासनिक स्थान्तरण किया गया, जो छात्र हित में कतई बर्दाश्त नहीं होगा। ग्रामीणों व विद्यार्थियों ने चेतावनी दी कि स्थानांतरण निरस्त नहीं होता है तो विद्यालय की शैक्षणिक व्यवस्था प्रभावित होगी। अधिकारी एक बार विद्यालय में आकर निरीक्षण कर शिक्षक के कार्य के बारे में जाने।
तीन दिन में समस्या हल का आश्वासन
शिक्षक के स्थानांतरण के विरोध में विद्यार्थियों का समर्थन करते हुए किसान नेता धाकड़ ने इस मामले को कलेक्टर को भी अवगत कराया। मौके पर पहुंचे जिला शिक्षा अधिकारी ने तीन दिन में पुनः अटैचमेंट का आश्वासन दिया। इसके बाद विद्यार्थी माने और धरना समाप्त किया।

- Advertisement -

इनका कहना
प्रशासकीय स्तर पर शिक्षक का ट्रांसफर हुआ है। विद्यार्थियों की मांग अनुरूप उन्हें पुनः अटैचमेंट कर दिया जाएगा।
केसी शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी रतलाम

- Advertisement -

Related articles

कलेक्टर ने सपत्नीक देखी हस्तशिल्प प्रदर्शनी : शिल्पिकारों की कलाओं को सराहा, कहां हस्तनिर्मित इन वस्तुओं में कलाकार की भावना काफी महत्वपूर्ण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प हथकरघा विकास निगम का प्रयास सदैव सराहनीय रहा है। सरकार ने भी...

50 से ज्यादा हस्तशिल्पिकारों की कलाकारी एक ही स्थान पर : कंपनी को मात देते दूधी के जूते, बहुत कुछ है इस हस्तशिल्प मेले...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।रतलाम के रोटरी हॉल अजंता टॉकीज रोड पर चल रहे हस्तशिल्प मेले में 50 से ज्यादा हस्तशिल्पों के...

हस्तशिल्प मेले में एक से बढ़कर एक कारीगरी : भोपाल से आए कलाकार की अनूठी कला, कलात्मक हस्तशिल्प सामग्री बनी आकर्षण

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।मृगनयनी, संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, मध्यप्रदेश शासन द्वारा रोटरी हॉल अजंता...

वर्चस्व की लड़ाई में सजा : बहुप्रतिक्षित फैसले में भदौरिया ग्रुप के आरोपियों को 7 वर्ष तो अंबर ग्रुप के आरोपियों को 6 वर्ष...

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।एक दशक पूर्व रतलाम के जूनियर इंस्टीट्यूट के सामने शिखा बार में दो पक्षों के बीच...
error: Content is protected by VandeMatram News