कार्रवाई में अभद्रता : जवाहरनगर के बाद त्रिपोलिया गेट पर अतिक्रमण हटाने के दौरान जमकर विवाद, दुकानदारों ने मनमानी पूर्वक कार्रवाई का लगाया आरोप

कार्रवाई में अभद्रता : जवाहरनगर के बाद त्रिपोलिया गेट पर अतिक्रमण हटाने के दौरान जमकर विवाद, दुकानदारों ने मनमानी पूर्वक कार्रवाई का लगाया आरोप

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
शहर में अतिक्रमण हटाने के दौरान काफी जगह विवाद की स्थिति निर्मित हुई। सब्जी, फल और फूल विक्रेताओं को नए स्थान पर असुविधाओं से परेशानी उपजने से वह अपने पुराने स्थान पर बैठ रहे हैं। उन्हें हटाने के लिए जवाहरनगर से लेकर त्रिपोलिया गेट और सागोद रोड पर पहुंची निगम टीम के साथ सब्जी विक्रेताओं के बीच काफी नोक-झोंक देखने को मिली। त्रिपोलिया गेट पर कार्रवाई के दौरान मीडियाकर्मी से विवाद के बाद काफी हंगामे की स्थिति बनी। शनिवार को नगर निगम उपायुक्त विकास सिंह सोलंकी के साथ टीम जब जवाहरनगर सब्जी मंडी में कार्रवाई करने पहुंची तब विक्रेताओं ने विरोध कर दिया और जब्ती वाहन के आगे धरने पर बैठ गए। हंगामें के बाद उपायुक्त सोलंकी ने एक दिन की अतिरिक्त मोहलत देते हुए रविवार से मुक्तिधाम के समीप आवंटित भूमि पर विक्रेताओं को व्यापार करने की हिदायत दी।

कार्रवाई के दौरान दिनभर ऐसे ही बनी रही विवाद की स्थिति।

शनिवार को नगर निगम अमला अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई के लिए सडक़ पर उतरा। निगम उपायुक्त सोलंकी सहित उपयंत्री राजेश पाटीदार, राजेंद्र मिश्रा के अलावा बड़ी संख्या में संपत्तिकर के कर्मचारियों के साथ कार्रवाई राममंदिर स्थित जवाहरनगर कॉर्नर से शुरू हुई। क्षेत्र में स्थित विश्वमंगल बेकरी और नमकीन की दुकान के बाहर सडक़ पर भट्टी पाते हुए उसे तोडऩे के दौरान दुकान संचालक और निगमकर्मियों के बीच काफी कहासुनी हुई। निगम उपायुक्त सोलंकी ने पहुंचकर जैसे ही भट्टी तोडऩे के निर्देश दिए, तब जाकर दुकान संचालक शांत हुआ। इसके पश्चात निगम अमला कस्तूरबानगर मुख्यमार्ग पर बैठे सब्जी विक्रेताओं को अंतिम चेतावनी देकर सागोद रोड पहुंचा। सागोद रोड फोरलेन किनारे अतिक्रमण कर दुकान संचालित करने वालों का सामान जब्त किया। त्रिपोलिया गेट पर अमले में शामिल एक कर्मचारी की अभद्रता पर खासा आक्रोश देखने को मिला। पूरी कार्रवाई के दौरान सुरक्षा की दृष्टि से अमले के साथ संबंधित थाने का पुलिस बल भी मौजूद रहा।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.