मौत पर आक्रोश : अभाविप का तीन दिन का अल्टीमेटम, नहीं तो जिले के विद्यार्थी उतरेंगे सड़क पर

मौत पर आक्रोश : अभाविप का तीन दिन का अल्टीमेटम, नहीं तो जिले के विद्यार्थी उतरेंगे सड़क पर

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम शहर के सेंट जोसेफ कॉन्वेंट स्कूल में छात्रा व ट्रेनी नन की मौत को लेकर शहर में आक्रोश पनपता जा रहा है। पुलिस अभी तक जांच में किसी निष्कर्ष तक नहीं पहुंच पाई है। इसको लेकर सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ र्कारवाई की मांग की है। विद्यार्थी परिषद द्वारा स्टेशन रोड पुलिस थाने के बाहर सड़क पर बैठ विरोध किया। स्कूल प्रशासन व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सीएसपी हेमंत चौहान को ज्ञापन सौंप तीन दिन में मामले की जांच सार्वजनिक करने व स्कूल प्रशासन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है, नहीं तो जिले के सभी महाविद्यालयों व स्कूलों के विद्यार्थियों के साथ अभाविप सड़क पर उतरेगी।

पुलिस अधिकारियों से चर्चा करते परिषद के पदाधिकारी।

मालूम हो कि कान्वेंट स्कूल में ओडिसा की एक छात्रा की संदिग्ध अवस्था में मौैत हो गई थी। पुलिस अभी तक इसे आत्महत्या मान कर चल रही है। पीएम के दो दिन बाद भी रिपोर्ट के अभाव में पुलिस कुछ नहीं कहकर शंका को बल दे रही। इसी को लेकर विद्यार्थी परिषद ने सोमवार को थाने का घेराव किया। सड़क के बीच बैठे विद्यार्थियों को समझाने स्टेशन रोड पुलिस थाना प्रभारी किशोर पाटनवाला आए, लेकिन विद्यार्थी नहीं माने और सीएसपी हेमंत चौहान को बुलाने की मांग करने लगे। थाना प्रभारी ने कहा कि अभी मीटिंग चल रही है और मैं भी मींटिग से आ रहा हूं। लेकिन विद्यार्थी नहीं माने और कहा कि जब तक मींटिंग चलेगी तब तक हम सड़क पर बैठेंगे। कुछ देर बाद सीएसपी आए और उन्हें ज्ञापन सौंपा। सीएसपी ने परिषद के पदाधिकारियों को कहा कि आपके जो भी सवाल है और थाने के अंदर पांच लोग आ जाए। इसके बाद सभी सड़क से उठे।
ईसाई धर्मांतरण की होती है गतिविधियां
परिषद ने स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाया है कि स्कूल की आड़ में अवैध रूप से छात्रावास बनाकर अन्य राज्यों से नाबालिग बच्चियों को लाकर ईसाई धर्मांतरण की गतिविधियां संचालित की जाती है। ओडिसा राज्य से आई नाबालिग बालिका के साथ हुई ज्यादती और प्रताड़ना एवं संदिग्ध अवस्था में मौत को संभावित मानव तस्करी की उच्च स्तरीय जांच कर स्कूल प्रशासन व आरोपियों के खिलाफ सख्त र्कारवाई की जाना चाहिए। इस दौरान परिषद के जिला संयोजक कृष्णा डिंडोर, अनुज पोरवाल सहित बड़ी संख्या में छात्र व छात्राएं उपस्थित रही।
– मामले में अभी पीएम रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है। सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है।
हेमंत चौहान, सीएसपी रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.