अंचलों में ओवरलोडिंग, नियमों की अनदेखी न पड़ जाए भारी

अंचलों में ओवरलोडिंग, नियमों की अनदेखी न पड़ जाए भारी

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
सोयाबीन फसल कटाई होने से जिले के अंचलों में नियमों को तोड़ वाहनों की ओवरलोडिंग बदस्तूर जारी है। वाहन चालक जहां पुलिस और परिवहन विभाग से बैखोफ हैं, वहीं ओवरलोडिंग वाहन दुर्घटना होने से बड़ी घटना मजदूरों की जान पर ला सकती है। नियमों का पालन कराने वाले विभागों की उदासीनता से कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

सैलाना पुलिस थाने के सामने से गुजरते वाहन में बैठे ग्रामीण।
धामनोद से सैलाना के बीच इस तरह ऑटो में ओवरलोडिंग सवारियां।

वर्तमान में ग्रामीण क्षेत्र से रोजाना सैकडों की संख्या में मजदूर शहर सहित अंचल में मजदूरी करने जा रहे हैं। मजदूरों को लाने और ले जाने के लिए लोडिंग और सवारी वाहनो में मजदूरों को ठूस-ठूस कर भरा जा रहा है। ओवर लोडिंग सवारियों से दुर्घटना का खतरा बना रहता है, लेकिन इस ओर जिम्मेदारों का ध्यान नहीं है। वहीं इन वाहनों में सवारियों से मनमाना किराया भी वसूला जा रहा है। इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
इन क्षेत्रों में देखे जा सकते ओवरलोडिंग वाहन
जिले के ग्रामीण क्षेत्र सैलाना, बाजना, शिवगढ़, पंचेड़, नामली, रावटी में सवारियों को लाने ले जाने का काम कर रहे मैजिक और तूफान वाहनों में नियमों के विपरित ओवरलोडिंग देखी जा सकती है। इसके अलावा वाहनों की तेज रफ्तार पर भी किसी का ध्यान नहीं है। कई ओवरलोडिंग वाहन जर्जर होने के साथ इस बात को भी प्रमाणित कर रहे हैं कि परिवहन विभाग ने इनका अरसे से फिटनेस की जांच भी नहीं की।
जिला परिवहन अधिकारी दीपक मांझी का कहना है कि हमारे द्वारा निरंतर कार्रवाई की जा रही है। हाल ही में पंचेड़, शिवगढ में कार्रवाई की गई है।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.