यह कैसी कार्रवाई: खाद्य एवं सुरक्षा विभाग की छोटों पर कार्रवाई, सर्वानंद सहित अन्य बड़े बाजार को छूट

यह कैसी कार्रवाई: खाद्य एवं सुरक्षा विभाग की छोटों पर कार्रवाई, सर्वानंद सहित अन्य बड़े बाजार को छूट

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
त्योहार के दिनों में भी प्रशासन की भेदभाव पूर्ण कार्रवाई आमजन में सवाल खड़े करने लगी है। जिला खाद्य एवं सुरक्षा विभाग की बात करें तो छोटे दुकानदारों के खिलाफ सैंपल लेने के दौरान मोबाइल से फोटो लेकर समाचार प्रमुखता से जारी कर वाह-वाही लूट रहा है, जबकि त्योहारी सीजन में जिला खाद्य एवं सुरक्षा विभाग की ओर से न्यूरोड स्थित सर्वानंद बाजार सहित अन्य बड़े दुकानदार एवं मॉल में विक्रय होने वस्तुओं की जांच से दूरी बनाए हुए है।
कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के निर्देश के बाद कुंभकर्णी नींद से जागा जिला खाद्य एवं सुरक्षा विभाग अपनी मनमानी कर सिर्फ दस्तावेजों पर जांच के आंकड़े बढ़ाने में लगा है। जिला खाद्य एवं सुरक्षा विभाग छुटकर दुकानों के अलावा अंचल क्षेत्रों में छोटी-मोटी कार्रवाई कर प्रतिदिन शाम को समाचार-पत्रों के माध्यम से स्वयं की पीठ थपथपा रहा है। भेदभावपूर्ण तरीके से जांच की कार्रवाई पर सवाल खड़े होने पर वंदेमातरम् न्यूज ने जिला खाद्य एवं सुरक्षा अधिकारी कमलेश जमरा से चर्चा कर पूछा गया कि छोटे-मोटे दुकानदारों के अलावा बड़े मॉल और बाजार में खाद्य वस्तुओं के खिलाफ कार्रवाई कब शुरू होगी? इस प्रश्न के जवाब में कहा कि समय-समय पर कार्रवाई की जाती है। जिला खाद्य एवं सुरक्षा अधिकारी कमलेश जमरा से पूछा कि आपके विभाग ने बड़े बाजार और मॉल पर कार्रवाई कब की, तो वह निरुत्तर रहे। न्यूरोड स्थित सर्वानंद बाजार या अन्य बड़े दुकानदारों के यहां से कब सैंपल लिए? इस सवाल के जवाब में उनके द्वारा कहा कि अभी त्योहार में मावा मिठाई वालों की जांच कर रहे हैं, जब उनसे पूछा कि न्यूरोड स्थित सर्वानंद बाजार पर मिठाई नहीं मिलती या अन्य कोई ऐसी खाद्य वस्तु नहीं मिलती या यह जांच के दायरे से बाहर है? प्रतिउत्तर में जमरा ने कहा कि जल्द ही बड़े बाजारों की खाद्य वस्तुएं भी जांची जाएगी। आमजन का सवाल यह है कि जिला खाद्य एवं सुरक्षा विभाग आखिर दीपावली के बाद बड़े बाजारों पर औपचारिकता पूर्ण कार्रवाई से इतिश्री करेगा।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.