20.3 C
Ratlām
Sunday, September 25, 2022

जिपं उपाध्यक्ष जब पहुंचे स्कूल: विद्यार्थियों से राष्ट्रपति का नाम पूछा तो बता दिया, लेकिन रतलाम कलेक्टर व एसपी का नाम नहीं मालूम

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
रतलाम जिले के रानीसिंघ गांव के शासकीय हाई स्कूल के कक्षा 11वीं के विद्यार्थियों को देश की राष्ट्रपति का नाम पता है, लेकिन प्रदेश के शिक्षा मंत्री, रतलाम जिले के कलेक्टर व एसपी का नाम नहीं मालूम। जी हां यह हकीकत है। मंगलवार को जिला पंचायत उपाध्यक्ष व शिक्षा समिति अध्यक्ष केशुराम निनामा ने के सामने यह हकीकत सामने आई है।

दरसल ग्रामीणजनों की शिकायत पर जिला पंचायत अध्यक्ष शिक्षा समिति अध्यक्ष के नाते स्कूल का निरीक्षण करने मंगलवार को स्कूल पहुंचे। विद्यार्थियों से परिचय के दौरान सामान्य ज्ञान के हिसाब से उन्होंने विद्यार्थियों से सवाल किए। स्कूल में प्राचार्य भी अवकाश पर थे। सबसे पहले उन्होंने कक्षा 11वीं के बायो स्टूडेंट से देश की राष्ट्रपति का नाम पूछा। एक छात्रा ने सही नाम बताया। इसके बाद उन्होंने पूछा रतलाम डिस्ट्रिक्ट के जिला कलेक्टर व एसपी कौन है एक भी बच्चा नहीं बता पाया। यहां तक मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री कौन है वह भी नहीं बता पाए। जब उन्होंने बच्चों से खेल के बारे में पूछा तो उन्हें बताया गया ना ही फुटबॉल गेम है ना ही हमारे पास बैडमिंटन है और नहीं किसी प्रकार से खेल सामग्री उपलब्ध करवाई है। बता दे कि जिला पंचायत अध्यक्ष जिला पंचायत शिक्षा समिति के पदेन अध्यक्ष होते है। अध्यक्ष बनने के बाद यह पहला निरीक्षण था।

शिक्षा समिति अध्यक्ष निनामा ने बताया कि बच्चों का कहना है पूरे स्कूल में साफ-सफाई हम खुद करते हैं। जबकि दो कर्मचारी है उसके बावजूद भी उन्हें सफाई करना पड़ता है। एक भी कक्ष में पंखा नहीं है जिससे विद्यार्थियों ने बहुत ज्यादा गर्मी लगने की बात भी बताई। निनामा के अनुसार विद्यार्थियों का कहना है किसी भी चीज को लेकर हम प्रिंसिपल को अवगत करवाते हैं लेकिन हमारी बात नहीं मानी जाती है। बल्कि डराया जाता है। इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी दी जाएगी। विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ साथ सामान्य ज्ञान भी पढ़ाने की जरूरत है। जांच का विषय है कि स्कूल में किस तरह अध्यापन कराया जा रहा है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

Latest Articles

error: Content is protected by VandeMatram News